उत्तरकाशी डीएम ने खुद कटवाया अपनी गाड़ी का चालान, हैरत में पड़े अधिकारी

उत्तरकासी के डीएम डॉ. आशीष चौहान एक बार फिर से चर्चाओं में हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें अपनी गाड़ी का चालान खुद कटवाना पड़ा।

dm order to cut chalan of his own vehicle - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तरकाशी डीएम, डॉक्टर आशीष चौहान, उत्तरकाशी न्यूज, उत्तराखंड डीएम, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarkashi DM, Doctor Ashish Chauhan, Uttarkashi News, Uttarakhand DM, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तरकाशी के डीएम डॉ. आशीष चौहान के बारे में तो आप जानते ही होंगे। अपने कामों को लेकर लगातार चर्चाओं में रहने वाले डीएम एक बार फिर से चर्चाओं में हैं। ये चालान पुलिस अधिकारियों के निर्देश पर नहीं बल्कि खुद डीएम के निर्देशों पर ही काटा गया। अब आपको बताते हैं कि आखिर ये पूरा मामला क्या है।
दरअसल उत्तरकाशी के विश्वनाथ चौक पर शुक्रवार की दोपहर सौंदर्यीकरण का लोकार्पण कार्यक्रम आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में शरीक होने के लिए जिलाधिकारी आशीष चौहान अपनी गाड़ी से मौके पर पहुंचे। उनके ड्राइवर ने विश्वनाथ चौक के पास ही डीएम की गाड़ी को पार्क किया। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बीजेपी कार्यकर्ता भी आए और कवर करने के लिए पत्रकार भी पहुंचे।

यह भी पढें - उत्तराखंड: शादी में खाना खाने से 256 लोग बीमार, 3 लोगों की मौत...कई लोगों की हालत गंभीर
तमाम गाड़ियों को आसपास ही पार्क किया हुआ था और इससे यातायात व्यवस्था गड़बड़ाने लगी। इस बीच यातायात व्यवस्था के लिए तैनात सब इंस्पेक्टर शिल्पा सैनी ने नो पार्किंग में खड़ी गाड़ियों का चालान काटना शुरू कर दिया। जब लोगों ने अपने वाहनों के चालान कटते देखे, तो नाराजगी जताने लगे। उन्होंने डीएम के वाहन पर भी सवाल उठाया और कहा कि डीएम ने भी तो नो पार्किंग में अपनी गाड़ी खड़ी की है। गुस्साए लोगों ने कहा कि नियम सभी के लिए बराबर हैं तो सिर्फ आम लोगों के वाहनों का ही चालान क्यों काटा जा रहा है? इस बीच डीएम आशीष चौहान भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने सभी की बातें सुनी और महिला पुलिस ऑफिसर को अपनी ही गाड़ी का चालान करने के निर्देश दे दिए। तब जाकर सभी लोगों ने डीएम और महिला पुलिस अधिकारी द्वारा की गई कार्रवाई की तारीफ की।

यह भी पढें - हरिद्वार में मिली टिहरी गढ़वाल के बुजुर्ग व्यक्ति की लाश, गांव में पसरा मातम
डीएम डा. आशीष चौहान ने कहा कि इस कार्रवाई से लोगों को समझना चाहिए कि कानून सभी के लिए बराबर ही है। नियम तोड़ने वाले को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मियों को भी बिना किसी झिझक के अपने आदेशों का पालन करना चाहिए। फिर चाहे उनको किसी बड़े अधिकारी और वीआईपी का ही चालान करना पड़े।
आपको यहां ये भी बता दें कि उत्तरकाशी में जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान बीते लंबे वक्त से वाहनों की जांच के लिए खुद ही सड़क पर नजर आते हैं। इस कार्रवाई के दौरान उन्होंने कई गाड़ियों के चालान भी करवाए। उत्तरकाशी जिले की हर पुलिस चौकी को निर्देश दिए गए हैं कि बिना हेलमेट, बिना लाइसेंस, तेज रफ्तार, नो पार्किंग के लिए रोजाना 20 चालान करें।


Uttarakhand News: dm order to cut chalan of his own vehicle

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें