उत्तराखंड: शादी में खाना खाने से 256 लोग बीमार, 3 लोगों की मौत...कई लोगों की हालत गंभीर

उत्तराखंड से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि कपकोट में एक शादी समारोह में खाना खाने से 20 लोग फूड प्वॉजनिंग के शिकार हो गए।

people sufferd of food poisning in bageshwar - उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, बागेश्वर हादसा, बागेश्वर शादी, बागेश्वर न्यूज, Uttarakhand News, Uttarakhand, Uttarakhand News, Bageshwar Incident, Bageshwar Weddings, Bageshwar News, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड से एक बड़ी निकलकर सामने आ रही है। बागेश्वर के कपकोट ब्लॉक के बास्ती गांव में ज़हरीला खाना खाने ने स्थानीय विधायक ललित फर्स्वाण समेत 250 लोग बीमार हो गए। बताया जा रहा है कि बीमार हुए लोगों में ज्यादातर घराती हैं। फूड प्वॉजनिंग से बीमार साल के एक बच्चे पीयूष सिंह की बेड़ीनाग अस्पताल में मौत हो गई। इसके अलावा एक और बच्ची मीनाक्षी ने दम तोड़ दिया। एक बुजुर्ग महिला नंदी देवी (60 साल) निवासी बास्ती की मौत एसटीएच हल्द्वानी में इलाज के दौरान हुई। इसके बाद से पूरे गांव में हड़कंप मचा हुआ है और हर कोई हैरान है।
गंभीर रूप से बीमार लोगों को हेलीकॉप्टर के जरिए हल्द्वानी पहुंचाया गया। अब आपको बताते हैं कि आखिर ये पूरा मामला क्या है।

यह भी पढें - उत्तराखंड: खूंखार भालू ने किया सेना के कर्नल पर हमला, अस्पताल में हालत गंभीर
बताया जा रहा है कि कपकोट के गडेरा निवासी हरीश सिंह गढ़िया के घर में शादी की शहनाई बज रही थी। उनके बेटे नंदन सिंह गढ़िया की शादी थी। बारात बृहस्पतिवार को बास्ती गांव के मोहन सिंह मेहर के घर गई थी। रात के दस बजे के बाद शादी के माहौल में चीख पुकार मचने लगी। जिन जिन लोगों ने खाना खाया था, उन्हें उल्टी और दस्त की शिकायत होने लगी। इससे माहौल में हड़कंप मच गया। रातभर गांव के लोग परेशन रहे और सुबह सात बजे के करीब बागेश्वर जिला प्रशासन को इस बारे में खबर की गई। कपकोट विधायक के निर्देश पर जिला प्रशासन ने डॉक्टरों की एक टीम को बास्ती गांव में भेजा गया। बताया गया कि बास्ती, सनगाड़, गडेरा, थूमा और द्वारी गांवों के करीब 250 से ज्यादा लोग बीमार हैं। 152 से ज्यादा लोग बेरीनाग अस्पताल में भर्ती किए गए।

यह भी पढें - चमोली जिले में दहशत का माहौल, मां की गोद में बैठी बेटी पर झपटा भालू
42 लोगों को कांडा और करीब 14 मरीजों को बागेश्वर अस्पताल में भर्ती कराया गया। मौके पर करीब पांच एंबुलेंस मंगाई गई और तब जाकर मरीजों को अलग अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया। एसडीएम रिंकू बिष्ट के मुताबिक 70 से ज्यादा लोगों का इलाज गांव में चला। ज्यादातर मरीजों की हालत में अब सुधार है। 9 बीमार लोगों को अब तक एअर लिफ्ट कर एसटीएच हल्द्वानी में भर्ती कराया गया हैं। रेफर होने वालों का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता हैं। कमिश्नर राजीव रौतेला ने पूरे मामले की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए हैं। चिकित्सकों की कमी को देखते हुए बाहरी जिलों से चिकित्सकों की टीम जिला मुख्यालय पहुंच रही हैं। सीएससी बेरीनाग में हेलीकाप्टर के जरिये एक चिकित्सक भेज दिया हैं। वहीं नैनीताल व अल्मोड़ा से चिकित्सकों की टीम बागेश्वर पहुंच रही हैं।


Uttarakhand News: people sufferd of food poisning in bageshwar

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें