उत्तराखंड में केदारनाथ फिल्म का विरोध शुरू, सरकार से फिल्म पर बैन लगाने की मांग

केदारनाथ फिल्म को लेकर विरोध के सुर अब खुले तरीके से सामने आने लगे हैं। केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहितों ने इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।

Protest against kedarnath movie - Kedarnath movie, kedarnath, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,अजेंद्र अजय,उत्तराखंड,केदारनाथ,केदारनाथ फिल्म, बीजेपी

बॉलीवुड के लिए अब किसी भी कहानी पर मिर्च मसाला लगाकर बेचना आम बात हो गई है। केदारनाथ जैसी महा विभीषिका को एक काल्पनिक कहानी के रंग में भिगोकर बॉलीवुड ने एक बार फिर से मसाला परोसने की कोशिश की है। सोशल मीडिया पर तो इसकी थू-थू हो रही है लेकिन अब केदारनाथ के तीर्थ पुरोहितों ने भी इस फिल्म पर बैन लगाने की मांग कर दी है। तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि अगर इस फिल्म पर बैन नहीं लगाया गया, तो कड़ा विरोध होगा। शुरुआत में तो इस फिल्म को लेकर उत्तराखंड के लोगों के बीच उत्साह था लेकिन जब फिल्म का टीज़र सामने आया तो लोग भड़क उठे हैं। फिल्म का केंद्र केदारनाथ आपदा नहीं बल्कि एक प्रेम प्रसंग है। बताया जा रहा है कि फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत एक मुस्लिम की भूमिका में हैं, जो केदारनाथ में पिठ्ठू का काम करता है।

यह भी पढें - पहले पहाड़ के लोगों को चूना लगाया, अब हुआ नया बवाल..केदारनाथ फिल्म का विरोध शुरू
टीज़र में किसिंग सीन को लेकर लोग आपत्ति जता रहे हैं और खुलकर विरोध कर रहे हैं। तीर्थपुरोहितों के अलावा बीजेपी और अन्य संगठन भी इस फिल्म के खुलकर विरोध में आ रहे हैं। बीजेपी नेता अजेंद्र अजय का कहना है कि इस फिल्म के टीज़र से केदारनाथ के भक्तों की भावनाएं आहत हो रही हैं। उनका ये भी कहना है कि अभी फिल्म की पूरी कहानी आनी बाकी है, जिसमें आस्था को ठेस पहुंचाने वाले दृश्य बताए जा रहे हैं। टीज़र में एक तरफ केदरनाथ धाम तबाह हो रहा है और दूसरी तरफ हीरो-हीरोइन बोल्ड सीन करते दिख रहे हैं। लोगों को हीरो की नमाज़ अदायगी को लेकर भी काफी परेशानी है। लोग खुलकर कह रहे हैं कि केदारनाथ में ऐसा कभी देखने को ही नहीं मिला , तो फिल्म में जबरदस्ती ऐसा क्यों दिखाया गया है ?

यह भी पढें - Video: केदारनाथ फिल्म का ट्रेलर लॉन्च, याद आया आपदा का वो खौफनाक मंजर..देखिए
तीर्थपुरोहित श्रीनिवास पोस्ती का कहना है कि इस फिल्म के टीजर और पोस्टर कुछ अलग ही कहानी बयां कर रहे हैं। साफ तौर पर चेतावनी दी गई है कि अगर इस फिल्म पर बैन नहीं लगाया गया, तो कड़ा विरोध होगा। सरकार से फिल्म पर बैन लगाने की मांग की गई है। केदारनाथ फिल्म पहले भी विवादों में आई है, जब स्थानीय युवाओं को पेमेंट ही नहीं किया गया। युवाओं ने इसकी शिकायत जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल से भी की थी। अब सवाल ये है कि इस फिल्म को लेकर सरकार का अगला कदम क्या होगा ? क्या सड़क पर लोग खुलकर विरोध और नारेबाज़ी पर उतरेंगे ? क्या फिल्म की कहानी में बदलाव होगा ? देखना है कि आगे क्या होता है। फिलहाल आप भी ये टीज़र देख लीजिए।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Protest against kedarnath movie

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें