पहले पहाड़ के लोगों को चूना लगाया, अब हुआ नया बवाल..केदारनाथ फिल्म का विरोध शुरू

हाल ही में केदारनाथ फिल्म का टीज़र रिलीज हुआ है। हालांकि इसमें कोई डायलॉग डिलिवरी नहीं है लेकिन इसके बाद भी इस फिल्म को लेकर बवाल शुरू हो गया है।

Kedarnath movie protest in social media - Kedarnath movie, kedarnath film, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,उत्तराखंड,केदारनाथ,केदारनाथ फिल्म,त्रियुगीनारायण

2013 में केदारनाथ में प्रकृति ने तांडव मचाया दिया था। 10 हज़ार से ज्यादा लोग मारे गए थे और हजारों लोग लापता हो गए थे। ये त्रासदी उत्तराखंड के सीने पर लगा ऐसा जख्म है, जो आने वाले कई दशकों तक दिल में सिहरन पैदा कर देगा। वो ऐसा वक्त रहा होगा जब कई लोग मिले होंगे, बिछुड़े होंगे। ऐसे भीषण हालात में मदद करने वाले और मदद पाने वाले में एक आत्मीयता का रिश्ता बन जाने की संभावना होती है। ये आत्मीयता प्रेम में बदल जाए इसकी भी संभावना होती है। लेकिन उस त्रासदी को एक काल्पनिक कहानी बनाकर अलग ही रंग देने की कोशिश हो, तो सवाल उठते हैं। ऐसा ही आजकल केदारनाथ फिल्म के साथ हो रहा है। सोशल मीडिया पर खासतौर पर उत्तराखंड के लोग इस फिल्म के विरोध में उतरते दिख रहे हैं।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ फिल्म का ट्रेलर लॉन्च, याद आया आपदा का वो खौफनाक मंजर..देखिए
एक शख्स ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि ‘केदारनाथ धाम और वहां की आस्था को गलत तरीके से दिखाया गया है।’ एक वेबसाइट इंडिया स्पीक्स डेली ने लिखा है कि ‘’इस फिल्म में प्रेम को हिंदू-मुस्लिम रंग दिया गया है, जो कि एक नए विवाद को जन्म देगा। निर्देशक एक काल्पनिक कथा को एक सच्चे हादसे के केंद्र में रचता है। भीड़ जुटाने और विवाद पैदा करने के लिए नायक को मुस्लिम बताता है। उनके बीच प्रणय दृश्य फिल्माता है’’। वैसे देखा जाए तो केदारनाथ फिल्म इससे पहले भी विवादों आ चुकी है। डायरेक्टर अभिषेक कपूर अपनी फिल्म ‘केदारनाथ’ की शूटिंग के लिए रुद्रप्रयाग जिले में आए। इस दौरान फिल्म के निर्माता ने स्थानीय युवाओं से फिल्म के क्रू के लिए कुछ काम करवाया था। बताया जा रहा है कि उन युवाओं का भुगतान तक नहीं हुआ है। रुद्रप्रयाग के इन युवाओं ने जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल से इस बारे में शिकायत भी की।

यह भी पढें - गढ़वाल के गरीब परिवारों पर चूना लगाकर चले गए बॉलीवुड वाले, उन्हें शर्म तक नहीं आई
आपको जानकर हैरानी होगी कि एक युवक का 35 हजार रुपये बकाया है। ऐसे 35 युवक हैं और सभी का अलग अलग बकाया है। इस फिल्म की शूटिंग करीब सवा महीने केदारघाटी के त्रियुगीनारायण गांव के अलावा सोनप्रयाग, गौरीकुंड, केदारनाथ धाम, चोपता में की गई। त्रियुगीनारायण के ही रहने वाले राजेश भट्ट का कहना है कि उसे 35 हजार रुपये का चूना लगा लिया गया। निर्माता ने ये पैसा खाते में डालने की बात कही थी। लेकिन फिल्मी दुनिया की तरह ये वादे भी फुर्र हो गए। एक दिन पहले ही फिल्म का ट्रेलर भी रिलीज हुआ है। देखिए।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Kedarnath movie protest in social media

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें