देवभूमि में हड़कंप..केदारनाथ ट्रैक पर गए IIT के19 छात्र लापता, सर्च ऑपरेशन शुरू!

केदारनाथ ट्रैक पर गए इन लोगों से फिलहाल कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है। इससे देवभूमि में हड़कंप मच गया है। खास बात ये है कि ये IIT के छात्र हैं।

Contect cut of trakkers team on kedarnath track - kedarnath track, rudraprayag district, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,IIT,केदारनाथ,रुद्रप्रयागउत्तराखंड,

उत्तराखंड में केदारनाथ ट्रैक पर गए 24 लोगों की टीम का कुछ भी पता नहीं चल पा रहा। बताया जा रहा है कि इस टीम में IIT रुड़की के 19 छात्रों का ट्रैकिंग दल भी है। टीम का संपर्क पूरी तरह से कट गया है और इस वजह से पुलिस और प्रशासन सतर्क हो गया है। इस वजह से SDRF की टीम की रेस्क्यू के लिए भेज दिया गया है। ये रेस्क्यू टीम वासुकीताल से इस टीम की खोज शुरू करेगी। बताया जा रहा है कि इस टीम ने टिहरी जिले के गंगी से 20 सितंबर को केदारनाथ तक ट्रैकिंग का सफर शुरू किया था। चार दिन से इस टीम से किसी का संपर्क नहीं हो पाया है। बताया जा रहा है कि IIT के ही एक अधिकारी ने मंगलवार को इस बारे में पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग को फोन करके खबर दी। इसके बाद एक टीम रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए रवाना कर दी गई है।

यह भी पढें - Vodeo: उत्तराखंड पुलिस की गुंडागर्दी ? बीच सड़क पर दी भद्दी-भद्दी गालियां..वायरल हुआ वीडियो
बताया जा रहा है कि आखिरी बार 22 सितंबर को टीम के सदस्यों से आखिरी बात बात हो पाई थी। रुद्रप्रयाग के पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा ने मीडिया को जानकारी दी कि मंगलवार शाम साढ़े चार बजे IIT रुड़की के एक फैकल्टी मेंबर ने उन्हें फोन किया और इस बारे में जानकारी दी। इस टीम में कुल मिवाकर 19 ट्रैकर और 5 पोर्टर/कुक शामिल हैं। हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि मौसम खराब होने की वजह से ट्रैकिंग दल कहीं रास्ते में कैंप लगाकर रह रहा होगा। इस टीम को टिहरी जिले के गंगी से मयाली टॉप होकर वासुकीताल होते हुए केदारनाथ पहुंचना था। अब तक इस टीम का कुछ भी पता नहीं चल पाया। रेस्क्यू टीम में तीन एसडीआरएफ के जवान, उखीमठ थाने के प्रभारी होशियार सिंह, तीन कांस्टेबल, तीन पोर्टर और दो स्थानीय गाइड हैं।


Uttarakhand News: Contect cut of trakkers team on kedarnath track

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें