हरिद्वार: कारोबारियों की हत्या करने आये 'शूटर' गिरफ्तार, 'जेल' से मिली थी सुपारी

हरिद्वार जेल में बंद बदमाश कलीम ने एक डॉक्टर और शराब कारोबारी की हत्या की साजिश रची थी, पर अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाया....

Shooters came to kill businessmen arrested in haridwar uttarakhand - हरिद्वार न्यूज,रुड़की न्यूज, haridwar news,Roorkee News,मंगलौर न्यूज,रायवाला न्यूज,SSP जन्मेजय खंडूड़ी, SSP janmejay khanduri, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के रुड़की में गजब हो गया। यहां जेल में बंद बदमाश ने एक डॉक्टर और शराब कारोबारी की हत्या की साजिश रची। दो शूटरों को इस काम के लिए तैयार भी कर लिया और उन्हें दो लाख की सुपारी भी दी। पर शूटर हत्याकांड को अंजाम दे पाते, इससे पहले ही धर लिए गए। मंगलौर पुलिस और सीआईयू की टीम ने दोनों शूटरों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए शूटर मंगलौर और रायवाला को खून से रंगने वाले थे। दोनों ने मंगलौर के एक डॉक्टर और रायवाला के शराब कारोबारी की हत्या के लिए सुपारी ली थी। रुड़की पुलिस ने आरोपियों के पास से दो तमंचे, 4 कारतूस, एक स्कूटी और दो मोबाइल बरामद किए। शूटरों को हत्या की सुपारी देने वाला एक बदमाश कलीम है, जो कि हरिद्वार जेल में बंद है। ये जानकारी एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूड़ी ने सिविल लाइंस कोतवाली में हुई एक प्रेस कांफ्रेंस में दी। पुलिस को सूचना मिली थी मंगलौर के रहने वाले कलीम ने दो शूटरों को एक डॉक्टर और शराब कारोबारी की हत्या के लिए सुपारी दी है। शूटरों को मंगलौर के डॉक्टर अमजद और रायवाला के शराब कारोबारी रमेश जोशी की हत्या के लिए 2 लाख रुपये मिले थे। मंगलवार रात पुलिस को सूचना मिली की दो संदिग्ध लोग रुड़की से मंगलौर आ रहे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस ने जाल बिछाया और आरोपियों को तांशीपुर तिराहे के पास पकड़ लिया। शूटरों की पहचान पुरुषोत्तम झा और प्रदीप उर्फ भूरा के रूप में हुई है। दोनों बिहार के रहने वाले हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड: लागू होगा नया ट्रैफिक प्लान, दून-हरिद्वार-ऋषिकेश के लिए नए फ्लाईओवर की सौगात
मंगलौर में धरे गए दो शूटर, डॉक्टर और शराब कारोबारी की हत्या करने आए थे, जेल में बंद बदमाश ने दी थी सुपारी

... आरोपियों के पास से तमंचे और कारतूस मिले हैं। पूछताछ में पुरुषोत्तम ने बताया कि उसका एक दोस्त सचिन हरिद्वार जेल में बंद है। कलीम ने जेल से ही व्हाट्सएप और टैक्स्ट मैसेज कर सचिन के जरिए उससे संपर्क किया था। 30 हजार रुपये एडवांस भी दिलवाए। बाद में दोनों रुड़की पहुंच गए और मंगलौर में डॉक्टर की रेकी की। डॉक्टर के बाद दोनों शराब कारोबारी की हत्या करने वाले थे। जांच में पता चला है कि कलीम की मंगलौर के डॉक्टर से पुरानी रंजिश थी। वहीं जिस शराब कारोबारी रमेश जोशी की हत्या का प्लान था, उसे कलीम जेल में बंद किसी शराब कारोबारी के कहने पर मारने वाला था। दोनों शूटरों को 2 लाख रुपये देने के बाद वो बाकी रकम अपने किसी परिचित को दिला देता। फिलहाल पुलिस ने दोनों शूटरों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। पुलिस जेल में बंद कलीम को रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।


Uttarakhand News: Shooters came to kill businessmen arrested in haridwar uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें