loksabha elections 2019 results

देवभूमि में भारतीय सेना ने बनाया रिकॉर्ड, 5 दिन में वैली ब्रिज तैयार..20 गांवों को फायदा

गढ़ी कैंट में सेना ने 5 दिन के रिकॉर्ड समय में वैली ब्रिज तैयार कर दिया। इस ब्रिज के बनने से आस-पास के 20 गांव, शहर से जुड़ जाएंगे।

Army made bridge in just five days in dehradun - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, भारतीय सेना, इंडियन आर्मी, देहरादून न्यूज, देहरादून, गढ़ी कैंट देहरादून, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Indian Army, Indian Army, Dehradun News, Dehradun, Garhi Cant Dehradun, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

देश की सेना को सलाम...एक रिपोर्ट के मुताबिक देहरादून में सेना के जवानों ने लोगों के लिए वैली ब्रिज तैयार कर दिया....और वो भी केवल पांच दिन में। इस ब्रिज के तैयार होने के बाद आस-पास के इलाके में रहने वाले लोगों को आवाजाही में सहूलियत होगी। सेना के वाहन भी ब्रिज के जरिए अपने गंतव्य तक आसानी से पहुंच सकेंगे। फिलहाल सेना की तरफ से वैली ब्रिज की मजबूती का ट्रायल लिया जा रहा है। उत्तराखंड सब एरिया के जीओसी मेजर भास्कर कलिता इस ब्रिज से वाहनों के विधिवत संचालन का शुभारंभ करेंगे। इस ब्रिज के बनने से स्थानीय लोगों और स्कूली बच्चों को पुल की दूसरी तरफ जाने के लिए लंबे रास्ते से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा। आपको बता दें कि गढ़ी कैंट में पिछले 28 दिसंबर को बीरपुर पुल टूट गया था, इस हादसे में दो बाइक सवारों की मौत हो गई थी।

यह भी पढें - गढ़वाल राइफल के सपूत को आखिरी सलाम, परिवार का रो-रोकर बुरा हाल...बंद रहा बाजार
गढ़ी कैंट में पुल टूटने की वजह से 20 से ज्यादा गांवों का संपर्क शहर से कट गया था। लोगों की सहूलियत के लिए बाणगंगा-सप्लाई से होकर ट्रैफिक डायवर्ट किया गया, लेकिन इस रोड पर बने घट्टीखोला पुल पर भी दरारें दिखने लगीं, जिसके बाद इस रास्ते वाहनों की आवाजाही बंद करनी पड़ी। लोगों को शहर पहुंचने के लिए दूसरे लंबे रास्तों का इस्तेमाल करना पड़ रहा था। सेना के वाहन भी अपनी बटालियनों तक नहीं पहुंच पा रहे थे। लोगों की परेशानी को देखते हुए सेना ने रक्षा मंत्रालय से ब्रिज निर्माण की परमीशन मांगी। परमीशन मिलते ही ब्रिज बनाने का काम शुरू कर दिया गया, 5 दिन के रिकॉर्ड समय में सेना ने घट्टीखोला में वैली ब्रिज बनाकर तैयार कर दिया। इस पुल की खास बात ये है कि इससे सेना के भारी टैंक और बड़े ट्रक भी आसानी से गुजर सकेंगे। इस ब्रिज पर आवाजाही शुरू होने से ग्रामीणों के साथ-साथ जवानों को बड़ी राहत मिलेगी।


Uttarakhand News: Army made bridge in just five days in dehradun

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें