पहाड़ के इस युवा ने खेती की शानदार कमाई, अब अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में लगेगा स्टॉल

नौटियाल दंपति हर साल की तरह इस साल भी अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में पहाड़ी उत्पादों का स्टॉल लगाएगा, स्टॉल में कौन-कौन से प्रोडक्ट मिलेंगे चलिए बताते हैं..

Now hill products will also be available at international trade fair - hill products, international trade fair, uttarkashi, Uttarakhand, उत्तरकाशी, नौगांव, रवाईं घाटी, उत्तराखंड, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पहाड़ की दालों-अनाज की बात ही अलग है। पहाड़ी उत्पाद ऑर्गेनिक हैं। स्वाद और सेहत दोनों के पैमाने पर एकदम खरे उतरते हैं। उत्तराखंड की रवाईं घाटी में उगने वाली दालें और दूसने उत्पाद जल्द ही दिल्ली के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले की शान बढ़ाते नजर आएंगे। प्रगति मैदान में 14 से 17 नवंबर के बीच अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला आयोजित होने जा रहा है, जहां नवीं बार पहाड़ी स्वाद का तड़का लगेगा। उत्तरकाशी के विकास स्वयं सहायता समूह नौगांव से जुड़े नरेश नौटियाल और उनकी पत्नी लता नौटियाल दिल्ली वासियों को पहाड़ के उत्पादों का स्वाद चखाएंगे। ये दंपती इन दिनों मेले की तैयारी में जुटा है। मेले के लिए 80 अलग-अलग तरह के पहाड़ी उत्पादों की पैकिंग की जा रही है। नौटियाल दंपती देवलसारी गांव के रहने वाले हैं। जो कि साल 2009 से पहाड़ी उत्पादों की बिक्री का काम कर रहे हैं। समूह के लोग रवाईं, जौनपुर और जौनसार के गांव-गांव जाकर स्थानीय उत्पाद खरीदते हैं। जिन्हें मुंबई, दिल्ली, चंडीगढ़, सूरत, देहरादून, मंडी, कुल्लू और शिमला के साथ-साथ राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय मेलों में बेचा जाता है। नौटियाल दंपती की कोशिश से पहाड़ी उत्पादों को पहचान मिली है, साथ ही 15 युवाओं को रोजगार भी।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: CM को धमकी भरा फोन करने वाला गिरफ्तार,बम ब्लास्ट की धमकी दी थी
चलिए अब आपको उन उत्पादों के बारे में बताते हैं जिन्हें दिल्लीवासी खूब खरीदते हैं। इनमें मंडुवा, झंगोरा के साथ ही हर्षिल की राजमा, रवाईं के लाल चावल, बुरांश से बने प्रोडक्ट और सिलबट्टे पर पिसा हरा नमक शामिल है। पिछले साल प्रगति मैदान में हुए मेले में 3 लाख 60 हजार रुपये के उत्पाद बिके थे, इस बार समूह ने 5 लाख रुपये की बिक्री का लक्ष्य रखा है। लता नौटियाल इस सफलता का श्रेय पति नरेश को देती हैं। वो कहती हैं कि पति के विश्वास के दम पर ही वो आगे बढ़ पाईं। अब वो लोग पहाड़ के उत्पादों को पहचान दिलाने के साथ ही युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए प्रयासरत हैं। दिल्ली में होने वाले व्यापार मेले में राजमा, उड़द, गहथ, तोर, लोबिया और झंगोरा जैसे उत्पाद मिलेंगे। साथ ही माल्टा, बुरांश और पुदीना-खुबानी का जूस भी बिक्री के लिए उपलब्ध होगा।


Uttarakhand News: Now hill products will also be available at international trade fair

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें