चमोली जिले की DM स्वाति ने अचानक मारा छापा, कैरम खेलने में बिजी मिले कर्मचारी

सरकारी दफ्तरों के हाल बुरे हैं, कर्मचारियों ने कामचोरी की हद पार कर दी है, निर्माण कार्यों के लिए बजट मिलता है, पर खर्च नहीं होता...

CHAMOLI DM SWATI S BHADAURIA RAID - Chamoli, gopeshwar, Uttarakhand, डीएम स्वाति एस भदौरिया, चमोली, गोपेश्वर, थराली न्यूज, उत्तराखंड न्यूज, जिला पंचायत थराली, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड में सरकारी दफ्तरों का गजब हाल है। दूर-दराज से आए गांव वालों के काम करने के लिए कर्मचारियों के पास वक्त नहीं है, काम ना करने के लिए सैकड़ों बहाने हैं, लेकिन इन्हें खेलने-दोस्तों संग मटरगश्ती करने के लिए आराम से वक्त मिल जाता है। चमोली के थराली में जिला पंचायत का वाहन चालक और एनसीसी के कर्मचारी दफ्तर में बैठकर कैरम खेल रहे थे। खेल चल ही रहा था कि तभी डीएम स्वाति एस भदौरिया वहां पहुंच गईं। ड्यूटी के वक्त कैरम खेल रहे कर्मचारियों की अनुशासनहीनता देख वो भड़क गईं। उन्होंने जिला पंचायत अधिकारियों को साफ कहा कि ये सब नहीं चलेगा। आफिस टाइम में कर्मचारियों का काम छोड़कर खेल में व्यस्त हो जाना सही नहीं है। उन्होंने संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ एक्शन लेने के निर्देश दिए। घटना बुधवार की है। डीएम चमोली और प्रशासक जिला पंचायत स्वाति एस भदौरिया जिला पंचायत दफ्तर का निरीक्षण करने आईं थीं। इसी दौरान एनसीसी को किराए पर दिए गए कक्ष में कर्मचारी ड्यूटी के वक्त कैरम खेलते मिले।

यह भी पढें - बाड़मेर में उत्तराखंड का सपूत शहीद, 25 साल की उम्र में चला गया..मौसी ने दिया अर्थी को कंधा
यही नहीं तीन कर्मचारी छुट्टी पर मिले। जिस पर डीएम ने सभी कर्मचारियों की बायोमैट्रिक्स उपस्थिति डिटेल्स मांगी, ताकि गायब रहने वाले कर्मचारियों के खिलाफ एक्शन लिया जा सके। इस दौरान डीएम ने ये भी देखा कि साल 2018-19 वित्तीय वर्ष में क्षेत्र के लिए 441 निर्माण कार्य स्वीकृत हैं, जिनमें से अभी केवल 36 कार्य ही पूरे हो पाए हैं। काम में ढिलाई और लापरवाही बरतने वाले सहायक अभियंता को डीएम ने जमकर लताड़ा। उन्होंने एएमए से कहा कि निर्माण कार्यों की व्यक्तिगत तौर पर मॉनिटरिंग करें। उन्होंने लंबित निर्माण कार्यों में तेजी लाने के भी निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान डीएम को ये भी पता चला कि जिला पंचायत क्षेत्र में होने वाले निर्माण कार्यों के लिए 8.49 करोड़ की धनराशि स्वीकृत है, जिसमें से अभी तक सिर्फ 46 लाख रुपये ही खर्च किए गए। पिछली आपदा के वक्त जो निर्माण कार्य स्वीकृत हुए थे, उन पर अब तक काम शुरू नहीं हुआ। डीएम ने एएमए को निर्माण कार्य तुरंत शुरू कराने और ठेकेदारों के लिए समय सीमा तय करने के भी निर्देश दिए।


Uttarakhand News: CHAMOLI DM SWATI S BHADAURIA RAID

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें