Connect with us
Image: Youth foundation in uttarakhand

सेना में भर्ती के लिए तैयार हैं पहाड़ की बेटियां, कर्नल कोठियाल की मेहनत का नतीजा देखिए

यूथ फाउंडेशन अब लड़कों के साथ ही लड़कियों के लिए भी आर्मी-पुलिस भर्ती कैंप आयोजित कर रहा है...वीडियो में देखिए श्रीनगर में लड़कियां कैसे कठिन ट्रेनिंग ले रही हैं...

उत्तराखंड गौरवशाली सैन्य परंपरा वाला प्रदेश है। यहां का हर परिवार किसी ना किसी तरह सेना से जुड़ा है। बात जब देश सेवा की आती है तो पहाड़ के बेटे अपनी जान की बाजी लगा देते हैं। अब तक यहां के बेटों को ही देश सेवा का मौका मिलता रहा है, पर जल्द ही एक नया बदलाव देखने को मिलेगा। पहाड़ की वीरांगनाएं देश सेवा के लिए अपनी ट्रेनिंग शुरू कर चुकी हैं। इनकी आंखों में सेना का हिस्सा बनने का सपना है और ये सेना की वर्दी पहनने के लिए खुद को तैयार कर रही हैं। हर चुनौती से पार पाने के लिए खुद को ढाल रही हैं। इन बेटियों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है और इसका श्रेय जाता है यूथ फाउंडेशन के संस्थापक कर्नल अजय कोठियाल को। कर्नल अजय कोठियाल किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। पहाड़ का ये सच्चा सपूत भले ही सेना से रिटायर हो गया है, पर उनका मिशन अब भी जारी है। यूथ फाउंडेशन के जरिए वो पहाड़ के हजारों युवाओं को नई राह दिखा चुके हैं।

यह भी पढें - मंगेश घिल्डियाल के 5 काम, जो उन्हें बनाते हैं देवभूमि का सबसे धाकड़ DM..देखिए 5 वीडियो
कर्नल अजय कोठियाल ने इन युवकों को ट्रेनिंग दी और उनकी ट्रेनिंग का ही नतीजा है कि यूथ फाउंडेशन से ट्रेनिंग लेने वाले हजारों युवक देश के पथ पर चल पड़े हैं। उन्हें सेना की वर्दी पहनने का मौका मिला है। यूथ फाउंडेशन प्रदेशभर में ट्रेनिंग कैंप लगाने के साथ ही समाजसेवा के काम में भी जुटा है। हाल ही में यूथ फाउंडेशन के चार्ली कैंप का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। श्रीनगर में लगे इस कैंप में कर्नल अजय कोठियाल छात्राओं का हौसला बढ़ाते दिखे। केदारनाथ पुननिर्माण में निम के पूर्व प्राचार्य कर्नल अजय कोठियाल और उनके यूथ फाउंडेशन ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। यूथ फाउंडेशन से कई लड़कियां भी जुड़ी हैं, जिन्हें भारी मशीनें चलाने तक की ट्रेनिंग दी गई है। अब ये साहसी बेटियां सेना का हिस्सा बनेंगी। हाल ही में हमें सोशल मीडिया पर एक वीडियो देखने को मिला। जिसमें प्रदेश की बेटियां कर्नल अजय कोठियाल के नेतृत्व में ट्रेनिंग लेती नजर आ रही हैं। ये एक सुखद बदलाव है। जिस प्रदेश में तीलू रौतेली जैसी वीरांगनाएं पैदा हुई हों, वहां की बेटियां सेना में जाकर प्रदेश का गौरव बढ़ाएं इससे बेहतर और कुछ हो ही नहीं सकता।

यह भी पढें - दीपक रावत के 5 बेमिसाल काम, जो उन्हें बनाते हैं बेस्ट IAS अफसर...देखिए 5 वीडियो
यूथ फाउंडेशन ने लड़कियों के लिए सेना भर्ती कैंप चलाने की घोषणा साल 2017 में ही कर दी थी। अब गढ़वाल और कुमाऊं में कैंप लगाए जा रहे हैं। ट्रेनिंग कैंप में लड़कियों को सेना और पुलिस भर्ती की ट्रेनिंग दी जाती है। कर्नल अजय कोठियाल के इस प्रयास की जितनी तारीफ की जाए कम है, उन्होंने उत्तराखंड की नारी शक्ति और उसके सामर्थ्य को समझा और उसे तराशा भी...उम्मीद है जल्द ही हमारी बेटियां सेना-पुलिस का हिस्सा बन समाज और देश की सेवा में अपना योगदान देने लगेंगी। आप भी ये वीडियो देखिऐ, और इसे जुड़ा सकारात्मक संदेश दूसरे लोगों तक पहुंचाईये...

मैंने जीवन में कभी भी हारना नहीं सीखा.. देखिये कर्नल अजय कोठियाल की पूरी कहानी..

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

वीडियो : उत्तराखंड का अमृत: किलमोड़ा
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
वीडियो : DM स्वाति भदौरिया से खास बातचीत
Loading...

उत्तराखंड समाचार

Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top