देहरादून के इन चीतों के साहस को सलाम, जिंदा जलने से बचाया एक परिवार..खुद देख लीजिए

मर्चेंट नेवी में इंजीनियर विक्रांत का परिवार आग की लपटों से घिरा था, पुलिस के जवानों ने हिम्मत ना दिखाई होती तो पूरा परिवार जिंदा जल जाता..देखिए तस्वीरें

dehradun police great work - उत्तराखंड न्यूज, देहरादून पुलिस, देहरादून चीता पुलिस, देहरादून चीता पुलिस रायपुरस देहरादून चीता पुलिस न्यूज, Uttarakhand News, Dehradun Police, Dehradun Cheetah Police, Dehradun Cheetah Police Raipur, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

देहरादून में चीता पुलिसकर्मियों की दिलेरी ने आग में घिरे परिवार की जान बचा ली। घटना दशमेश विहार की है, जहां मर्चेंट नेवी में इंजीनियर विक्रांत का परिवार रहता है। हादसे कभी कहकर नहीं होते, शनिवार की सुबह जब पूरा परिवार अनहोनी से बेखबर होकर सो रहा था, तभी पार्किंग में खड़ी कार में आग लग गई। आग ने स्कूटी को भी चपेट में ले लिया, धीरे-धीरे आग घर तक पहुंच गई। मकान के दरवाजे जलने लगे तो कमरों में धुआं भर गया। परिवार वालों का दम घुटने लगा, आंख खुलने पर उन्होंने देखा कि चारों तरफ आग लगी है। धुएं के गुबार की वजह से वो घर से बाहर भी नहीं निकल पाए। घर में रहने वाले पांचों सदस्य आग में घिर गए। उनकी चीख-पुकार सुन चीता मोबाइल के दो जवान मौके पर पहुंचे, और अपनी जान पर खेलकर पांचों लोगों की जान बचा ली। बाद में फायर ब्रिगेड आई और पानी डालकर आग पर काबू पाया। घटना रायपुर इलाके की है, जहां मर्चेंट नेवी में काम करने वाले इंजीनियर विक्रांत का परिवार रहता है। इन दिनों विक्रांत छुट्टी पर घर आए हुए हैं। शनिवार सुबह पार्किंग में खड़ी उनकी कार में अचानक आग लग गई। आगे पढ़िए और तस्वीरें भी देखिए

1/4 ऐसा था मंजर
dehradun police great work

जिस वक्त आग लगी उस वक्त विक्रांत और उनका परिवार मकान में सो रहा था, इसीलिए उन्हें कार में आग लगने की भनक तक नहीं लगी। आग धीरे-धीरे घर तक पहुंच गई, इसका पता परिवारवालों को तब चला, जब उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी।

2/4 आग की लपटों की फिक्र नहीं
dehradun police great work

आग की लपटों और धुएं के कारण परिवार बाहर नहीं निकल पा रहा था। सूचना मिलते ही चीता मोबाइल के जवान फैजान अली और राजेश कुंवर मौके पर पहुंच गए। दोनों जवानों ने अपने मुंह पर गीला कपड़ा बांधा और किसी तरह घर में दाखिल हो गए।

3/4 बचा लिया पूरा परिवार
dehradun police great work

जवानों ने घर में फंसे 37 साल के विक्रांत, उनके पिता 69 साल के रामनारायण, पत्नी निशा के साथ ही 4 साल के बेटे युनन, 2 साल के युवान और 15 साल के अन्यज को भी बचाया। आग लगने की वजह से कार और स्कूटी जलकर राख हो गई है।

4/4 सलाम इस बहादुरी को
dehradun police great work

संपत्ति को काफी नुकसान पहुंचा है। पर शुक्र है कि परिवारवाले सुरक्षित हैं। आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट होना बताई जा रही है। सिपाही फैजान अली और राजेश ने हिम्मत ना दिखाई होती तो ये परिवार हादसे का शिकार हो सकता था। इस वक्त हर जगह इन दिलेर जवानों की तारीफ हो रही है। एसएसपी ने उन्हें सम्मानित करने का ऐलान किया है।


Uttarakhand News: dehradun police great work

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें