Connect with us
Image: chandrashekhar rawan in dehradoon

टिहरी दुष्कर्म मामला: देहरादून पहुंचे भीम आर्मी के चंद्रशेखर उर्फ रावण..अस्पताल में बवाल

देहरादून पहुंचे भीम आर्मी संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण ने नैनबाग दुष्कर्म पीड़ित से मुलाकात की, वो बच्ची के गांव भी गए...

नैनबाग में 9 साल की दलित बच्ची से दुष्कर्म मामले में पुलिस कार्रवाई पर लगातार सवाल उठ रहे हैं, तो वहीं इस मामले में अब राजनीति शुरू हो गई है। पीड़ित बच्ची दलित वर्ग से है, ऐसे में खुद को दलित वर्ग का रहनुमा बताने वाले नेताओं को भी उत्तराखंड में एंट्री का मौका मिल गया है। मंगलवार को भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण भी देहरादून पहुंचे और बच्ची के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान उनके साथ आए भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने दून महिला अस्पताल में सरकार और प्रबंधन के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर ने बच्ची के परिजनों से कहा कि वो किसी के दबाव में ना आएं, इसके बाद भीम आर्मी के कार्यकर्ता बच्ची के गांव भी गए। भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं के आने की खबर पाकर प्रशासन भी दबाव में आ गया। दून महिला अस्पताल से लेकर बच्ची के गांव तक में भी भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ा। बच्ची के गांव जाने से पहले सुबह दस बजे भीम आर्मी के लोग दून अस्पताल पहुंच गए और वहां सरकार के खिलाफ हाय-हाय के नारे लगाने लगे। उनके अचानक आ धमकने से अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई।

यह भी पढें - देवभूमि में 9 साल की बच्ची से हैवानियत..वो हाथ जोड़ती रही, दरिंदे को दया नहीं आई
अस्पताल प्रशासन से लेकर मरीज तक परेशान हो गए। बाद में डॉक्टरों ने कार्यकर्ताओं को समझाया, तब कहीं जाकर वो शांत हुए। भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर ने दलित बच्ची के परिजनों के साथ ही मृतक जितेंद्र के परिजनों से भी मिले। बता दें कि दलित युवक जितेंद्र दास की कुछ दिन पहले दबंगों ने हत्या कर दी थी। उसका कसूर सिर्फ इतना था कि वो शादी में कुर्सी पर बैठकर खाना खा रहा था। वहीं नैनबाग दुष्कर्म मामले को लेकर समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि इस घटना से वो बेहद दुखी हैँ। उन्होंने कहा कि जब वे पीड़ित परिवार से मिलने नैनबाग पहुंचे तो ये देखकर दंग रह गए कि पीड़ित बच्ची और दुष्कर्म के आरोपी को एक ही वाहन में ले जाया गया। इस पूरे मामले को देखकर लगता है कि इंसानी संवेदनाएं खत्म हो गई हैं। घटना से क्षेत्र के लोग व्यथित हैं, पहाड़ के लोगों में गुस्सा है। इस मामले में पुलिस की भूमिका संतोषजनक नहीं है। उन्होंने कहा कि दोषी को बख्शा नहीं जाएगा, आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। बता दें कि नैनबाग में बीते गुरुवार को 9 साल की दलित बच्ची से गांव के एक दुकानदार ने दुष्कर्म किया था। घटना को लेकर लोगों में गुस्सा है। आरोपी इस वक्त पुलिस की गिरफ्त में है, पीड़ित बच्ची का दून महिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : आछरी - गढ़वाली गीत
Loading...

उत्तराखंड समाचार

Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top