बदरीनाथ में बोले पीएम मोदी ‘सहयोग करें, केदारपुरी की तरह संवार दूंगा बदरीशपुरी भी’

श्री बदरीनारायण के दर्शन करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केदारपुरी की तर्ज पर बदरीनाथ का भी विकास किया जाएगा...लेकिन इसमें स्थानीय लोगों को भी सहयोग देना होगा।

PM modi in badarinath - पीएम मोदी, बदरीशपुरी, बदरीनाथ, बदरीनारायण, प्रधानमंत्री मोदी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तराखंड, बदरी-केदार, PM Modi Badrinath, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

देवभूमि में बदरी-केदार धाम के दर्शन करने आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दो दिवसीय दौरा यादगार रहा...उत्तराखंड की नैसर्गिक खूबसूरती देख वो अभिभूत नजर आए। आध्यात्मिक शांति के लिए देवभूमि आए प्रधानमंत्री खुले दिल से लोगों से मिले और उनका अभिवादन भी स्वीकार किया। केदारधाम के बाद बदरीनाथ धाम के दर्शन करने गए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अगर स्थानीय लोग सहयोग करें तो जल्द ही बदरीनाथ धाम भी केदारपुरी की तरह जगमगाता नजर आएगा। प्रधानमंत्री के इस आश्वासन के बाद बदरीनाथ धाम क्षेत्र के विकास होने की उम्मीद बलवती हुई है। पीएम मोदी ने कहा कि बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) और स्थानीय लोग सहयोग करें तो बदरीशपुरी भी केदारपुरी की तरह नजर आएगी। प्रधानमंत्री ने समिति के पदाधिकारियों से यह बात कही, जो कि उनसे क्षेत्र में विकास कार्य कराने की मांग लेकर गए थे। पीएम मोदी ने बदरीनाथ की शीतकालीन यात्रा के बारे में भी समिति के पदाधिकारियों से जानकारी मांगी।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ में सुरक्षा घेरा तोड़कर लोगों से मिले मोदी..बताई देवभूमि की खासियत..देखिए
रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बदरीनाथ धाम में पूजा-अर्चना की। उन्होंने मंदिर के सिंहद्वार से बदरीनाथ के प्राकृतिक सौंदर्य को निहारा। ये पहला मौका था, जबकि प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम भगवान बदरीनारायण के दर्शन करने देवभूमि आए थे। गुजरात भवन में उन्होंने बीकेटीसी के पदाधिकारियों से भेंट की। इस दौरान बीकेटीसी अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल और बदरीनाथ के डिमरी ब्राह्मण पंकज डिमरी ने पीएम ने कहा कि केदारनाथ की तर्ज पर ही बदरीनाथ धाम को संवारने की जरूरत है। इस मांग पर प्रधानमंत्री ने कहा कि धाम के सौंदर्यीकरण के लिए मंदिर परिसर के आस-पास से निर्माणों को हटाना होगा, ये बेहद जरूरी है, लेकिन लोग इसका विरोध कर सकते हैं। ऐसे में धाम को संवारने के लिए स्थानीय लोगों को भी मिलजुल कर सहयोग करना होगा।

यह भी पढें - केदारनाथ की ‘ध्यान गुफा’ में रातभर साधना करेंगे PM मोदी, सुबह करेंगे बद्रीनाथ दर्शन
डिमरी ब्राह्मण पंकज डिमरी ने कहा कि बदरीनाथ की तीर्थयात्रा संपन्न होने के बाद बदरीनाथ के रावल (मुख्य पुजारी) ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी के साथ बीकेटीसी के पदाधिकारी प्रधानमंत्री से मिलने दिल्ली आएंगे। कुल मिलाकर प्रधानमंत्री मोदी के उत्तराखंड दौरे से एक सकारात्मक संदेश दुनिया से तक पहुंचा है। इससे ये साबित हुआ है कि उत्तराखंड के धामों की यात्रा निरापद और सुरक्षित है। लोग केदारनाथ आने से डरेंगे नहीं और अब तो पीएम ने बदरीनाथ धाम को संवारने का भी आश्वासन दे दिया है। इससे चारधाम यात्रा को मजबूती मिलेगी, साथ ही धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा भी मिलेगा।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: PM modi in badarinath

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें