उत्तराखंड के सपूत की चंडीगढ़ में दर्दनाक मौत, अपने पीछे 3 साल का बेटा छोड़ गए

एक बार फिर से उत्तराखंड के लिए एक दुख भरी खबर सामने आ रही है। पहाड़ के वीर जवान के चंडीगढ़ में मौत हो गई।

Kumaon regiment jawan died in chandigarh - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड शहीद, शहीद सुनील तिवारी, अल्मोड़ा न्यूज, जागेश्वर, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarakhand Shahid, Shahid Sunil Tiwari, Almora News, Jageshwar, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

वो देश की रक्षा के सेना में भर्ती हुआ था। घर में पत्नी और तीन साल का बेटा है। चंडीगढ़ में तैनाती थी और वहीं उन्होंने अपनी जिंदगी की आखिरी सांस ली। अब परिवार बेसुध है, पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। 3 साल के मासूम बच्चा अपनी आंखों के सामने ये नज़ारा देखकर सन्न है। एक बार फिर से उत्तराखंड के लिए दुख भरी खबर सामने आई है। चंडीगढ़ में तैनात कुमाऊं रेजीमेंट के एक सैनिक की करंट लगने से मौत हो गई। मौत की खबर परिजनों को दी गई, तो परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि 9 कुमाऊं रेजिमेंट के जवान सुनील तिवारी पुत्र नंदकिशोर तिवारी चंडीगढ़ में तैनात थे। वो मूल रूप से अल्मोड़ा जागेश्वर के रहने वाले थे। बेटे की मौत की खबर जब परिजनों को मिली तो घर में कोहराम मचा हुआ है।

यह भी पढें - गढ़वाल राइफल के सपूत को आखिरी सलाम, परिवार का रो-रोकर बुरा हाल...बंद रहा बाजार
मीडिया से बात करते हुए परिजनों ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि उनके बेटे की ड्यूटी के दौरान करंट लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि सैनिक का पार्थिव शरीर बुधवार को उनके पैतृक गांव जागेश्वर लाया जाएगा। जागेश्वर में अंतिम दर्शन को बाद सैन्य सम्मान के साथ सैनिक का अंतिम संस्कार होगा। अब सवाल ये है कि आखिर उस सपूत के परिवार का पालन-पोषण कौन करेगा? वो जवान अपने पीछे पत्नी और 3 साल का एक बेटा छोड़ गया। मौत की खबर सुनते ही उनकी पत्नी बेसुध हो गई। गांव में मातम का माहौल पसरा हुआ है। आपको बता दें कि इस वक्त सैनिक का परिवार हल्दूचौड़ के दुर्गापाल पुर में रहता हैं। उत्तराखंड के वीर सपूत को राज्य समीक्षा का शत शत नमन, भगवान परिवार को ये दुख सहने की शक्ति प्रदान करे। ऊं शांति


Uttarakhand News: Kumaon regiment jawan died in chandigarh

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें