उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने की राहुल गांधी की तारीफ, गर्माया सियासी माहौल

कैबिनेट मिनिस्टर डॉ. हरक सिंह रावत इन दिनों अपने बयानों को लेकर चर्चा में हैं। हाल ही में एक कार्यक्रम में हरक सिंह रावत ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की खूब तारीफ की।

Harak singh rawat on rahul gandhi - हरक सिंह रावत, उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, हरक सिंह रावत न्यूज, उत्तराखंड बीजेपी, उत्तराखंड कांग्रेस, Harak Singh Rawat, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Harak Singh Rawat News, Uttarakhand BJP, Uttarakhand Congress, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

अब तीर तो कमान से निकल चुका है, लेकिन सियासी हलकों में इस बयान के कई मतलब निकाले जा रहे हैं। कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं। इस बार उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ कर सियासी माहौल गर्मा दिया है। सूबे की सियासत में मंत्री पद से आगे ना बढ़ पाने का दर्द भी उनके बयान में साफ झलका। वर्तमान में बीजेपी के कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत के इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। देहरादून में कर्मचारियों के एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की खूब तारीफ की। उन्होंने कहा कि राहुल का हाल ही में दिया वो बयान उनके दिल को छू गया है जिसमें उन्होंने संयम और समय को सबसे बड़ा हथियार बताया है। हरक यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि अब राहुल गांधी समझदार हो गए हैं, दूसरे कांग्रेसियों को भी उनसे सीख लेनी चाहिए। आगे जानिए कि उन्होंने और क्या क्या कहा।

यह भी पढें - उत्तराखंड के 4 हजार से ज्यादा शिक्षा मित्रों को बड़ी राहत, अनिल बलूनी ने दी खुशखबरी
उत्तराखंड की पॉलिटिक्स में पिछले 28 साल में मंत्री पद से आगे ना बढ़ पाने का दर्द भी उनके बयान में साफ झलका। उन्होंने कहा कि अब वो किसी की परवाह किए बगैर केवल अपने मन की सुनेंगे और आत्मसंतुष्टि के लिए काम करेंगे। मंत्री हरक सिंह रावत के इस बयान को लेकर सियासी हलकों में कई मतलब निकाले जा रहे हैं। कर्मचारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने दो टूक कहा कि पिछले 18 साल में राज्य का अपेक्षित विकास नहीं हुआ है। रावत ने ये भी कहा कि सच बोलने पर वो कई बार मुश्किल में फंस जाते हैं। ऐसा कई बार हो चुका है। मंत्री पद से आगे ना बढ़ पाने पर उन्होंने कहा कि प्रदेश में पुलिस सिपाही चार प्रमोशन पाकर दरोगा बन गया, लेकिन में साल 1991 से अब तक सिर्फ मंत्री ही हूं। उन्होंने कहा कि मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है। अब वो आत्मसंतुष्टि के लिए काम करेंगे। सियासी हलकों में रावत के इस बयान के कई मतलब निकाले जा रहे हैं।


Uttarakhand News: Harak singh rawat on rahul gandhi

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें