देवभूमि में बर्फबारी से सैकड़ों गांवों के रास्ते बंद, कई जगह 10 साल बाद गिरी बर्फ

उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी की वजह से गांवों का संपर्क एक-दूसरे से कट गया है। लोग बिजली-पानी के लिए तरस रहे हैं। लोग बर्फ गलाकर पीने को मजबूर हैं।

Snowfall and problem in uttarakhand - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड बर्फबारी, उत्तराखंड बारिश, टिहरी न्यूज, रुद्रप्रयाग न्यूज, हरिद्वार न्यूज, पिथौरागढ़ न्यूज, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarakhand Ice Bari, Uttarakhand Rain, Tehri News, Rudraprayag News, Haridwar News, Pithoragarh News, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड में लगातार हो रही बारिश और बर्फबारी से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में सड़क पर जमी बर्फ की वजह से गाड़ियों की आवाजाही थम गई...कई जगह पर्यटक रास्ते में फंसे हैं। दूसरी सेवाओं पर भी बारिश और बर्फबारी का असर पड़ा है। पहाड़ी इलाकों में बिजली की सप्लाई ठप हो गई है, तो कई जगह लोग पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं। यमुनोत्री धाम के आस-पास बसे गांवों में खूब हिमपात हुआ है। गांवों तक पहुंचने वाला पीने का पानी पाइपों में जम गया है, जिस वजह से पानी घरों तक नहीं पहुंच पा रहा। परेशान लोग बर्फ को गला कर प्यास बुझाने के लिए मजबूर हैं। खरसाली में बिजली नहीं आ रही है। नई टिहरी और उसके आस-पास के इलाकों का भी यही हाल है। नई टिहरी समेत लगभग 150 गांवों में बिजली की आपूर्ति ठप है। लोग अंधेरे में रहने को मजबूर हैं। प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में दूसरे दिन भी बारिश और बर्फबारी जारी रही।

यह भी पढें - उत्तराखंड में दर्दनाक हादसा..शादी का कार्ड बांटने जा रहे थे लोग, रास्ते में हुई मौत
बर्फबारी की वजह से उत्तरकाशी और मसूरी में सड़कें बंद हो गई हैं, जिन पर सैकड़ों पर्यटक फंसे हुए हैं। चमोली में दूसरे दिन भी मौसम खराब बना हुआ है। यहां ऊंचाई वाले इलाकों में खूब बर्फबारी हुई, जबकि निचले इलाकों में बारिश हो रही है। बारिश और बर्फबारी की वजह से ठिठुरन बढ़ गई है, लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे। ऋषिकेश और हरिद्वार में दिनभर बादल छाए रहे। नैनीताल में सुबह हल्की बारिश हुई, यहां कोहरा छाया हुआ है। यमुनाघाटी में पिछले तीन दिन से बिजली नहीं आ रही। इलाके में संपर्क सेवाएं ठप हैं। यमुनोत्री क्षेत्र के दर्जन भर गांव के ग्रामीण घरों में कैद हैं। इसके साथ ही रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे बांसबाड़ा में बंद पड़ा हुआ है। केदारघाटी, कालीमठ घाटी, मद्महेश्वर घाटी के ऊपरी गांवों में देर शाम तक बर्फबारी होती रही। जोशीमठ में भी बर्फबारी की वजह से बिजली की आपूर्ति ठप है। पोखरी इलाके के 127 गांवों में बिजली नहीं आ रही, लोग बिजली आने का इंतजार कर रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो फिलहाल राहत मिलने की उम्मीद नहीं है, ऐसे में जहां तक संभव हो लोग पहाड़ी इलाकों में जानें से बचें।


Uttarakhand News: Snowfall and problem in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें