अब उत्तराखंड पुलिस और यूपी पुलिस मिलकर करेंगे ये काम, तैयार हुआ वॉट्सएप ग्रुप

लोकसभा चुनाव के दौरान अपराधियों के मंसूबे नाकाम करन के लिए उत्तराखंड पुलिस यूपी पुलिस के साथ मिलकर काम करेगी। दोनों राज्यों की पुलिस ने अपराधियों से जुड़ी जानकारियां एक-दूसरे से साझा की।

Up police and uttarakhand police together - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखड न्यूज, उत्तराखंड पुलिस, खटीमा पुलिस, उधमसिंह नगर पुलिस , Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarakhand Police, Khatima Police, Udham Singh Nagar Police, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर अपराधों को रोकने के लिए उत्तराखंड पुलिस और यूपी पुलिस मिलकर काम करेगी। इसके लिए दोनों राज्यों की सीमांत पुलिस ने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है, जिसके जरिए अपराधियों से जुड़ी सूचनाएं एक-दूसरे से शेयर की जाएंगी। अपराधों को रोकने के लिए जल्द ही बॉर्डर पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे, ताकि बाहरी इलाकों से राज्य में आने वालों पर नजर रखी जा सके। इस संबंध में खटीमा और जसपुर में महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें दोनों राज्यों के पुलिस अधिकारियों ने हिस्सा लिया। बैठक में हिस्ट्रीशीटर और तस्करों की धरपकड़ के लिए मंथन हुआ। इसे तैयार करने का मुख्य मकसद ये है कि चुनावों की सरगर्मी बढ़ने के साथ ही अपराधी किस्म के लोग अपने पैर ना फैलाएं। इसके बारे में और भी जानकारियां जानिए।

यह भी पढें - अलर्ट: उत्तराखंड में बारिश-बर्फबारी का दौर शुरु, 5 जिलों में स्कूलों की छुट्टी की घोषणा
चुनाव के दौरान अपराधों को रोकने के लिए दोनों राज्यों की सीमांत पुलिस ने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया, जिसके जरिए जरूरी सूचनाएं साझा की जाएंगी। ग्रुप के जरिए पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर और वांटेड अपराधियों से जुड़ी जानकारियां एक-दूसरे को दीं। बैठक में चुनाव शांतिपूर्वक कराने के लिए विशेष रणनीति बनाई गई। इसके साथ ही बॉर्डर पर होने वाली चेकिंग पर भी चर्चा हुई। उत्तराखंड पुलिस ने खटीमा के 43 हिस्ट्रीशीटर और 2 मोस्ट वांटेड अपराधियों के साथ ही नानकमत्ता क्षेत्र के 28 हिस्ट्रीशीटर से जुड़ी जानकारियां यूपी पुलिस को दीं। यूपी पुलिस ने भी अपराधियों से जुड़ी जानकारियां उत्तराखंड पुलिस के साथ शेयर की हैं। खटीमा सीओ ने कहा कि अपराध कर दूसरे प्रदेश में जाकर छिपने वाले अपराधियों पर नकेल कसी जाएगी।


Uttarakhand News: Up police and uttarakhand police together

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें