दुखद: कबड्डी प्लेयर अनुष्का नेगी का हाथ काटना पड़ा, रो-रोकर बेहाल हुए मां-बाप

जिस बात का डर था, वो ही हुआ। हाईटेंशन लाइन की चपेट में आई रुद्रप्रयाग की अनुष्का नेगी को अपना हाथ गंवाना पड़ा है।

Latest update about anushka negi - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, अनुष्का नेगी, रुद्रप्रयाग,Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Anushka Negi, Rudraprayag, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

रुद्रप्रयाग की रहने वाली 12 साल की बालिका अनुष्का नेगी को मदद की दरकार है। खो-खो और कबड्डी की खिलाड़ी अनुष्का बीते 31 दिसंबर को हाइटेंशन लाइन की चपेट में आ गई थी। हादसे में अनुष्का के शरीर के कई हिस्से गंभीर रूप से झुलस गए, देहरादून में इलाज के दौरान अनुष्का का दाहिना हाथ काटना पड़ा। गंभीर रूप से झुलसी बच्ची का देहरादून के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। अनुष्का के इलाज में करीब 8 लाख का खर्चा आ रहा है। बच्ची के पिता मेहनत-मजदूरी करते हैं, ऐसे में इतनी बड़ी रकम का इंतजाम कर पाना उनके लिए मुश्किल है। मामला संज्ञान में आने के बाद बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी ने प्रोवेशन अधिकारी और समाज कल्याण अधिकारी को पीड़ित को शीघ्र मुआवजा देने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड में दो सिर वाले बच्चे ने जन्म लिया, 15 मिनट बाद चला गया
जखोली ब्लॉक में रहने वाली 12 साल की अनुष्का 31 दिसंबर को घर के पास खेल रही थी, इसी दौरान वो हाइटेंशन लाइन की चपेट में आ गई। गंभीर रूप से झुलसी अनुष्का को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान बच्ची का एक हाथ काटना पड़ा। बच्ची के पिता जगदीश नेगी ने बताया कि वो मेहनत-मजदूरी कर किसी तरह घर का खर्च चलाते हैं, बेटी के इलाज में करीब 8 लाख का खर्चा आ रहा है। इस हादसे ने उन्हें तोड़कर रख दिया है। मामला संज्ञान में आने के बाद बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी ने यूपीसीएल के अधिकारियों के रवैये पर नाराजगी जताई। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को यूपीसीएल प्रबंध निदेशक से संपर्क कर पीड़ितों को जल्द सहायता राशि देने के निर्देश दिए। साथ ही स्पांसरशिप योजना के अंतर्गत दोनों बालक-बालिकाओं को सहायता देने के लिए भी कहा, ताकि उनकी शिक्षा में किसी तरह की अड़चन ना आए।


Uttarakhand News: Latest update about anushka negi

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें