टिहरी झील से उड़ेगा ‘सी-प्लेन’, पहली उड़ान जौलीग्रांट तक होगी..पढ़िए अच्छी खबर

टिहरी झील से सी प्लेन शुरू करने की कवायद तेज हो रही है। आइए इस बारे में आपको कुछ खास बातें बता देते हैं।

Sea plane to start from tehri lake - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, टिहरी झील, सी प्लेन, टिहरी झील पर्यटन, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Tehri Lake, Sea Plane, Tehri Lake Tourism, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पर्यटकों को रिझाने के लिए उत्तराखंड की टिहरी झील में सी-प्लेन उतारने की कवायद तेज हो गई है। प्रोजेक्ट पर इसी महीने काम शुरू होने की उम्मीद है। सी प्लेन जमीन और पानी में एक साथ उड़ान भरने के साथ लैंडिंग भी कर सकता है। इसलिए प्रोजेक्ट का सीधा फायदा पर्यटकों के साथ-साथ आम यात्रियों को भी होगा। सरकार इसे टिहरी झील से जौलीग्रांट के बीच शुरू करने की तैयारी कर रही है। क्योंकि ये प्रोजेक्ट उड़ान योजना के तहत शुरू होने जा रहा है, इसलिए यात्रियों को सुविधा के साथ-साथ किराए में भी भारी छूट मिलेगी। सी-प्लेन योजना को राज्य कैबिनेट की बैठक में पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। टीएचडीसी भी झील किनारे दो एकड़ जमीन एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को देने के लिए राजी हो गया है। इसी कड़ी में राज्य सरकार ने केंद्र और एयरपोर्ट अथॉरिटी को एमओयू का प्रस्ताव भेज दिया है। प्रोजेक्ट पर आगे काम करने के लिए इसी महीने राज्य सरकार, केंद्र और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के बीच एमओयू होने की उम्मीद है।

यह भी पढें - उत्तराखंड पुलिस के 33 फीसदी पद पदोन्नति से भरे जाएंगे, त्रिवेंद्र कैबिनेट का बड़ा फैसला
एमओयू होने के बाद सर्वे और अन्य मंजूरी में करीब एक साल का समय लगेगा। इस बीच केंद्र सरकार टेंडर के जरिए ऑपरेटर का चयन करेगी। इसी के बाद प्रति सीट किराया भी तय होगा। बता दें कि फिलहाल सी प्लेन सेवा देश के कुछ ही हिस्सों में है। केंद्र सरकार ने उड़ान फेस-तीन की योजना में सी प्लेन सेवा को भी शामिल किया है। इस तरह टिहरी सी प्लेन से जुड़ने वाले शुरुआती शहरों में शामिल हो सकता है। अपर सचिव नागरिक उड्डयन आर राजेश कुमार ने बताया कि केंद्र सरकार एक साथ कई शहरों में सी प्लेन सेवा शुरू करने की तैयारी कर रही है। इसी क्रम में उत्तराखंड का टिहरी शहर भी शामिल है। पिछले साल इसके लिए डीजीसीए की टीम सर्वे कर चुकी है। सर्वे में टिहरी झील सी-प्लेन सेवा के लिए आदर्श पाई गई है। इसी महीने सी प्लेन के लिए त्रिपक्षीय एमओयू होने की उम्मीद है। सी प्लेन 300 मीटर लंबी झील से उड़ान भर सकता है, ये जमीन और पानी दोनों से उड़ान भरने में सक्षम है। सेवा की शुरुआत 10 सीटर विमान के साथ होगी।


Uttarakhand News: Sea plane to start from tehri lake

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें