गौरवशाली पल: गढ़वाल रेजीमेंटल सेंटर में 174 जवान भारतीय सेना में शामिल

एक बार फिर से गढ़वाल रेजीमेंट के नायक भवानी दत्त जोशी परेड ग्राउंड में जोश का माहौल देखने को मिला। 174 जवान भारतीय थल सेना का हिस्सा बन गए।

Lance down 174 young man become part of indian army - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, गढ़वाल राइफल, गढ़वाल राइफल लैंसडोन, uttarakhand news, latest uttarakhand news, garhwal rifle, garhwal rifle lacedown, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

लैसडोन का नायक भवानी दत्त जोशी परेड ग्राउंड, एक बार फिर से देश पर मर मिटने वालों की टोली यहां मौजूद थी। देश के लिए मर मिटने की कसम खाकर 174 जवान भारतीय थल सेना में शामिल हो गए। परेड के पुनर्निरीक्षण अधिकारी ब्रिगेडियर अनूप सिंह चौहान ने जवानों से रेजीमेंट की शौर्य और परंपरा का निर्वहन करने का आहावान किया। गढ़वाल राइफल रेजीमेंटल सेंटर की ख्याति को विश्व पटल पर ले जानमे का आह्वान किया गया। परेड कमांडर राइफलमैन सुभाष सिंह के नेतृत्व में जब जवानों की टोली जनता के बीच आई तो तालियों की गड़गड़ाहट के साथ सभी का स्वागत किया गया। 34 महीनों से मिली कड़ी ट्रेनिंग के बाद ये वीर जवान तैयार हुए और देश की सेना में शामिल हो गए।

यह भी पढें - देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट का नाम बदलेगा, नया नाम भी जान लीजिए!
इस दौरान रिक्रूटों ने गीता पर हाथ रखा और राष्ट्रीय ध्वज को साक्षी मानकर देश की रक्षा की शपथ ग्रहण की।
इस मौके पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए राइफलमैन पंकज नेगी को गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया।
अंकित मखलोगा को रजत पदक और रोबिन नेगी को कांस्य पदक से सम्मानित किया गया। ड्रिल के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए सुभाष सिंह, शारीरिक प्रदर्शन के लिए शैलेंद्र सिंह और फायरिंग के लिए नरेश गुसाईं को पदकों से सम्मानित किया गया।
इस दौरान परेड देखने के लिए पूरे गढ़वाल से लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा था। अभिभावकों का सीना अपने लाडले को देश का भावी सैनिक बनता देख गर्व से चौड़ा हो रहा था। इस दौरान कई अभिभावक भावुक भी हो गए।


Uttarakhand News: Lance down 174 young man become part of indian army

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें