खुशखबरी: उत्तराखंड में 5 हजार गेस्ट टीचर्स की भर्ती का रास्ता साफ, जारी हुए आदेश

उत्तराखंड में 5034 गेस्ट फैकल्टी की भर्ती का इंतजार अब खत्म हो गया है। इसके लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं।

good news for guest faculty in uttarakhand - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड गेस्ट टीचर्स, uttarakhand news, latest uttarakhand news, uttrakahand guest teachers, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के सरकारी माध्यमिक स्कूलों में काफी वक्त से गेस्ट फैक्टी की डिमांड की जा रही थी। नगर निकाय चुनाव की आचार संहिता हटने के बाद से इन सरकारी माध्यमिक स्कूलों में 5034 गेस्ट फैकल्टी की नियुक्ति को लेकर लंबा इंतजार अब जाकर खत्म हुआ है। अतिथि शिक्षकों की भर्ती के लिए गुरुवार को शासन द्वारा आदेश जारी कर दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि गेस्ट फैकल्टी के लिए ऑनलाइन आवेदन होंगे। पहले से कार्यरत गेस्ट फैकल्टी को टीचिंग एक्सपीरियंस के आधार पर अधिकतम 12 अंक दिए जाएंगे। आपको बता दें कि उत्तराखंड के सरकारी माध्यमिक विद्यालयों में लेक्चरार के 4200 और एलटी सहायक शिक्षकों के 834 पद खाली हैं। इन पदों को लेकर हाईकोर्ट ने 14 अगस्त को आदेश दिया था लेकिन निकाय चुनावों की वजह से नई घोषणा नहीं हो पाई थी।

यह भी पढें - शुरू हुआ देवभूमि का ऐतिहासिक मेला, जानिए गौचर मेले की 10 दिलचस्प बातें
अब इसे लेकर गेस्ट फैकल्टी की नियुक्ति होनी है। नियुक्ति प्रक्रिया वित्त महकमे और नगर निकाय चुनाव की आचार संहिता लागू होने की वजह की फंस गई थी। अब नियुक्ति और तैनाती प्रक्रिया को लेकर शिक्षा सचिव डॉ भूपिंदर कौर औलख ने आदेश जारी कर दिए हैं।
खास बात ये है कि अभ्यर्थियों को पसंदीदा जिलों में ही तैनाती का विकल्प दिया जाएगा। एक और बड़ी बात ये है कि महिला शाखा के विद्यालयों में सिर्फ महिला अभ्यर्थी ही आवेदन कर सकेंगी।
इसके अलावा आवेदनकर्ताओं का उत्तराखंड के इम्प्लॉयमेंट ऑफिस में रजिस्ट्रेशन बेहद जरूरी है।

यह भी पढें - उत्तराखंड में कल से सेना भर्ती रैली, पहाड़ के युवाओं को लंबाई में छूट..जानिए बड़ी बातें
आदेश के मुताबिक अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 साल रखी गई है। इसके अलावा अधिकतम आयु सीमा नियमों के मुताबिक ही होगी।
जिलों में गेस्ट फैकल्टी की नियुक्ति प्रक्रिया के लिए सॉफ्टवेयर तैयार करने, ऑनलाइन आवेदन प्रोसेस, जिले की रिक्तियों के मुताबिक मेरिट के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट (पीएमयू) गठित होगी।
एलटी के लिए टीईटी या फिर सीटीईटी-2 के नंबरों का 10 फीसदी, ग्रेजुएशन के नंबरों का दस फीसदी, बीएड, एलटी, बीपीएड या फिर किसी और पात्र डिग्री के लिखित और प्रयोगात्मक प्राप्तांकों का 20-20 फीसद गुणांक मिलेंगे।
गेस्ट फैकल्टी के रूप में शिक्षण अनुभव के लिए एक महीने में एक अंक, एक शैक्षिक सत्र में अधिकतम चार अंक और एक से अधिक सत्रों के लिए अनुभव के अधिकतम 12 अंक दिए जाएंगे।


Uttarakhand News: good news for guest faculty in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें