Video: उत्तराखंड की मशरूम गर्ल पर बना शानदार गीत, आप भी देखिए..‘मशरुम्या बांद’

उत्तराखंड की मशरूम गर्ल दिव्या रावत की जिंदगी, सफलता और मेहनत पर एक बेहतरीन गढ़वाली गीत तैयार हुआ है। आप भी देखिए

Garhwali song on divya rawat - Divya rawat, mashrumya band, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,उत्तराखंड,दिव्या रावत,बेल्जियम,मशरूम

उत्तराखंड की मशरूम गर्ल दिव्या रावत आज उत्तराखंड ही नहीं बल्कि देश और दुनियाभर के युवाओं के लिए रोल मॉडल बन चुकी हैं। मशरूम की खेती को कोई ऐसा आयाम देगा, किसी ने सोचा भी नहीं था। दिल्ली की नौकरी छोड़कर दिव्या उत्तराखंड में वापस लौटीं थीं और सफलता की एक नई कहानी लिख दी। इस कहानी को अब सुरों में पिरोया गया है। टिहरी गढ़वाल के रहने वाले पंकज सरियाल की बेहतरीन आवाज़ और इस गीत के बोल हर किसी के दिल में प्रेरणा जगाने के लिए काफी हैं। जखचौरा गांव के पंकज सरियाल ने इस गीत में पलायन वो दर्द भी दिखाया है, जो आज भी लोगों के दिलों में चुभता है। गुंजन डंगवाल के म्यूजिक डायरेक्शन शानदार है। दिव्या रावत ने मशरूम की खेती के इस काम को उत्तराखंड के गांव गांव में पहुचाने का काम किया है। इससे लोग स्वरोजगार की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

यह भी पढें - पहाड़ में तैनात डीएम ने पेश की मिसाल, अपने बेटे का एडमिशन आंगनबाड़ी में करवाया
विदेशों में भी दिव्या ने एक अलग ही पहचान कायम की है। हाल ही में दिव्या ने बेल्जियम का दौरा किया था। बेल्जियम में हुए इस इंटरनेशनल सेमिनार में दुनियाभर के कई देशों के मशरूम एक्सपर्ट्स आए थे। दिव्या आज मशरूम को रोजगार का एक मजबूत स्तंभ बना चुकी हैं और ये ही वजह है कि आज मशरूम एक क्रांति बन गया है। दिव्या के बारे में लिखने को तो बहुत कुछ है, लेकिन आप फिलहाल ये गीत देखिए, जो वास्तव में प्रेरणादायक है।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Garhwali song on divya rawat

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें