पहाड़ के पंदेरा का पानी..शरीर की गंभीर बीमारियों का अचूक इलाज, जानिए इसके फायदे

पहाड़ में बहुत सी बातें ऐसी हैं, जो हर तरह से इंसान की जिंदगी के लिए फायदेमंद हैं। आज पंदेरा के पानी के फायदे जानिए।

Benefits of pandera ka paani - पानी का पंदेरा, गढ़वाल का पानी, पहाड़ का पानी, Great Uttarakhand, Uttarakhand News, Pahadi Peopleउत्तराखंड,

पंदेरा...नाम तो सुना होगा आपने ? अगर आप पहाड़ से हैं, तो पंदेरा को आप भूल नहीं सकते। पहाड़ों में इसे पंदेरा, पंद्यर, पनेरा, पंदेरू या पंद्यारू कहा गया। आज हम आपको पंदेरा की कुछ ऐसी खासियत बताएंगे, जिनके बारे में जानकर आप अपने बचपन के दिनों में वापस लौट आएेंगे। पंदेरा कभी गांव की महिलाओं के मिलने का स्थान होता था। गर्मियों में ठंडा पानी और सर्दियों में गुनगुना पानी देता है पंदेरा। आज उत्तराखंड के पहाड़ों में घरों के आसपास नल लग गए हैं लेकिन पंदेरा की बादशाहत फिर भी कायम है। जब सबसे लाभकारी पेयजल की बात आती तो पहाड़ का पंदेरा सर्वश्रेष्ठ विकल्प माना जाता है। पंदेरा के पानी के कई फायदे हैं। इसे 'लिविंग वाटर' यानि 'क्रियाशील जल' माना जाता है। इंसान के शरीर के लिये जरूरी और ऊर्जा से भरा होता है।

यह भी पढें - देवभूमि का अमृत: कैंसर, पथरी और डायबिटीज का अचूक इलाज है ‘शिलफोड़ा’
इसमें खनिज लवण भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं। इतना जान लीजिए कि गजब का स्वाद लिए पंदेरा के पानी की किसी से तुलना नहीं की जा सकती। पंदेरा के पानी में प्राकृतिक खनिजों का मिश्रण होता है। मैग्निशियम, कैल्शियम, पोटेशियम और सोडियम हर किसी के लिए बेहद जरूरी होते हैं, ये सब कुछ आपको पंदेरे के पानी में मिल जाएंगे। तरो-ताज़गी के लिए पंदेरा का पानी सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। शोध कहते हैं कि पहाड़ी पंदेरा का पानी किसी भी व्यक्ति के वजन को उसके शरीर के मुताबिक बनाए रखता है। यानी अगर आपको अपना वजन घटाना है तो फिर पंदेरा का शुद्ध पानी पीजिये और कुछ दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा। इसकी एक और खास बात ये है कि इससे त्वचा भी चमकदार बनती है।

यह भी पढें - देवभूमि का अमृत: पीलिया, डायबिटीज और गंभीर बीमारियों का अचूक इलाज है ‘त्रायमाण’
वैज्ञानिकों की रिसर्च भी कहती है कि प्राकृतिक स्रोतों का पानी इंसान की पाचन शक्ति और मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है। ये पोषक तत्वों को पचाने में मदद करता है। शोध ये भी कहते हैं कि प्राकृतिक स्रोतों का पानी जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करने में मददगार होता है। ये रक्तसंचार को सुधारने में मदद करता है। शरीर में मौजूद तमाम विषैले तत्वों बाहर निकालने में पंदेरा का पानी कारगर साबित होता है। इसे डिटॉक्सीफिकेशन भी कहते हैं। कुल मिलाकर कहें तो पंदेरा का पानी गुणों की खान है । पहाड़ के लोगों के स्वस्थ रहने का राज है पंदेरा का पानी। इसलिए अपनी जड़ों से जुड़िए। आज वैज्ञानिक भी पहाड़ के पंदेरे के पानी की तलाश में हैं, तो आप भी सजग रहिए।


Uttarakhand News: Benefits of pandera ka paani

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें