उत्तराखंड में मजदूर की बेटी से हैवानियत, विजयदशमी के दिन महापाप का दुस्साहस!

देश में दशहरे के दिन रावण दहन हो रहा था और एक राक्षस उत्तराखंड में मजदूर की बेटी को अपनी हवस का शिकार बनाने की कोशिश कर रहा था। पढ़िए ये खबर

boy grab girl in haridwar for molestation - uttarakhand crime, haridwar crime, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,रावण दहन,शौचालयउत्तराखंड,

क्या वास्तव में उत्तराखंड में बेटियां सुरक्षित हैं ? क्या वास्तव में उत्तराखंड बेटियों के लिए महफूज़ जगह है? अभी अभी नवरात्र बीता है। नवरात्र में बेटियों को पूजा जाता है और उसी नवरात्र के ठीक एक दिन बाद विजयदशमी के दिन एक शर्मनाक वारदात सामने आई है। एक मजदूर की बेटी को जबरन शौचालय में खींचा गया और उससे हैवानियत की कोशिश की गई। ये पूरा वाकया हरिद्वार के चंडीघाट क्षेत्र का बताया जा रहा है। एक वेबसाइट में छपी खबर के मुताबिक एक बच्ची को जबरदस्ती एक दरिंदे ने शौचालय में खींचा और उससे दुष्कर्म की कोशिश की। पुलिस तक इस मामले की जानकारी पहुंची तो हड़कंप मच गया। आरोपी की धरपकड़ की कोशिशें तेज़ कर दी गई हैं। आइए आपको विस्तार से इस वारदात के बारे में जानकारी देते हैं।

यह भी पढें - पौड़ी गढ़वाल की बेटी ने देहरादून में की खुदकुशी, ब्लैकमेल कर रहा था हैवान ड्राइवर!
यह भी पढें - उत्तराखंड में दुष्कर्म पीड़ित छात्रा फिर से रो पड़ी, बड़े स्कूलों ने नहीं दिया एडमिशन!
वेबसाइट में छपी खबर के मुताबिक नाबालिग बच्ची एक मजदूर की बेटी है। बताया जा रहा है कि वो शौचालय से निकल रही थी और इसी दौरान वहां मौजूद एक शख्स ने उसे दबोच लिया। इसके बाद उस हैवान ने उस बेटी से दुष्कर्म की कोशिश की। जब किशोरी बीच बचाव में चिल्लाने लगी तो आरोपी ने उसे छोड़ दिया और मौके से भागने में कामयाब रहा। पीड़ित पक्ष की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर दिया है और आरोपी की धरपकड़ में जुट गई है। ये पूरी वारदात शुक्रवार शाम की बताई जा रही है, जब पूरे देश में रावण दहन हो रहा था। जब नाबालिग बच्ची ने हो हल्ला मचाया तो आसपास के लोग जमा हो गए। इसी दौरान आरोपी युवक मौके से फरार होने में कामयाब रहा। पुलिस विभाग में एसओ कुलदीप सिंह ने बताया कि आरोपी युवक की तलाश लगातार जारी है। सवाल फिर वो ही है कि क्या वास्तव में उत्तराखंड में बेटियां सुरक्षित हैं ?


Uttarakhand News: boy grab girl in haridwar for molestation

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें