देवभूमि को बदनाम कर रहे हैं जिस्म के धंधेबाज़..शिकंजे में अकरम, गुलज़ार और मोइनुद्दीन

ये कौन लोग हैं जो देवभूमि को अपवित्र कर रहे हैं ? आखिर इनकी मंशा क्या है ? सैलून की आड़ में जिस्मफरोशी के धंधे का खुलासा हुआ है।

police raid in haridwar - uttarakhand crime, haridwar crime, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,जिस्मफरोशी,पुलिस,बीएसपी नेताउत्तराखंड,

उत्तराखंड में हवाएं बदल रही हैं, इन हवाओं का रूख जिस तरफ है, वो एक भयानक मोड़ है। आखिर ये कौन लोग हैं, जो इस तरह से उत्तराखंड में घिनौनी हरकतों को अंजाम दे रहे हैं। यकीन मानिए ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की गई तो ये सांप की तरह फन फैलाएंगे। धर्मनगरी कहे जाने वाले हरिद्वार में एक बहुत बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल हरिद्वार में पुलिस को काफी वक्त से जिस्म के सौदेबाज़ों की खबरें मिल रही थी। इसके बाद पुलिस ने पड़ताल की, तो एक बड़ा खुलासा हुआ। एक सैलून की आड़ में जिस्मफरोशी का धंधा चल रहा था। सैलून का संचालक मोहम्मद शफी को इस धंधे का मुख्य संचालक बताया जा रहा है। इसके साथ ही इस सेक्स रैकेट में एक और बड़ा खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि बीएसपी नेता के भाई को भी शिकंजे में लिया गया है।

यह भी पढें - Video: चमोली जिले में खौफनाक हत्याकांड, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति को मार डाला
मानव तस्करी निरोधक दस्ते ने गांव सराय से सटी साबरी कालोनी में छापा मारा। एक घर में सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया। मोहम्मद शफी के अलावा गुलज़ार नाम के शख्स को दबोचा गया है, जो कि प्रॉपर्टी डीलर बताया जा रहा है। इसके अलावा बीएसपी नेता के भाई अकरम अंसारी, मोइनउद्दीन के साथ साथ सात पुरुषों और दो कॉलगर्ल को दबोचा गया है।पुलिस की पड़ताल में पता चला कि मोहम्मद शफी अपने एक रिश्तेदार के साथ मिलकर इस धंधे का नेटवर्क चला रहा है। इन लोगों के संपर्क में कई युवतियां भी शामिल हैं। बताया जा रहा है कि इसे लेकर जल्द ही एक बड़ा खुलासा हो सकता है। बताया जा रहा है कि बसपा नेता के भाई अकरम अंसारी को कस्टडी से छुड़ाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया गया। पुलिस ने किसी की भी नहीं सुनी और अपनी कार्रवाई को अंजाम दिया।


Uttarakhand News: police raid in haridwar

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें