loksabha elections 2019 results

Video: चमोली जिले में खौफनाक हत्याकांड, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति को मार डाला

देवभूमि में रिश्तों की कोई कीमत नहीं रह गई ? इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली ये खबर चमोली जिले से है। आप भी पढ़िए

wife killed husband in chamoli district - uttarakhand crime, uttarakhand chamoli, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,जोशीमठ,पुलिस,पाणा गांव,राजस्व पुलिस,हत्याकांडउत्तराखंड,

उत्तराखंड के चमोली जिले के पाणा गांव में प्रेम प्रसंग के चलते एक शख्स की हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि एक महिला ने अपनी प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद दोनों आरोपियों ने मृतक के शव को खाई में फेंक दिया। प्रेम प्रसंग के चलते हुए इस हत्याकांड का मामले का खुलासा तब हुआ जब मृतक के भाई ने पटवारी चौकी में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। मामले की जांच के बाद राजस्व पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उन्हें कारागार पुरसाड़ी भेज दिया गया। पाणा गांव के राजस्व उपनिरीक्षक नीरज स्वरूप ने बताया कि 20 सितंबर को जोशीमठ निवासी गौर सिंह ने अपने भाई गुड्डू सिंह की गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज करवाई।

यह भी पढें - देवभूमि में भीषण हादसा...200 मीटर गहरी खाई में गिरी कार..1 मौत, 3 घायल
गौर सिंह ने पुलिस को बताया था कि गुड्डू पाणा गांव में अपने ससुराल में ही रहता था। रिपोर्ट दर्ज करने के बाद राजस्व पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने मामले में मुस्तैदी दिखाई जिसकी वजह से जल्द ही हत्याकांड का खुलासा हो गया। राजस्व पुलिस के मुताबिक एक अक्टूबर को उनकी टीम पाणा गांव पहुंची। और मृतक की पत्नी तुलसी देवी और उसके परिजनों से मामले को लेकर पूछताछ की। पुलिस की गहनता से पूछताछ के दौरान मृतक की पत्नी तुलसी देवी ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए हत्याकांड का खुलासा किया। आरोपी महिला ने पुलिस को बताया कि उसने अपने प्रेमी के साथ मिल कर अपने पति को मौत के घाट उतार दिया था। तुलसी देवी ने बताया कि उसका पिछले सात महीने से गांव के एक शख्स साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसका नाम खिलाफ सिंह है।

यह भी पढें - देवभूमि में दर्दनाक हादसा..खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, 20 लोग बुरी तरह घायल!
जब तुलसी के पति को दोनों के बीच संबंध का पता चला तो उन्होंने मिलकर गुड्डू को जान से मारने की योजना बनाई। औऱ इसी के तहत 29 जुलाई की रात को जब गुड्डू अपने कमरे में सोया हुआ था तो खिलाफ सिंह ने कमरे में घुसकर उसका गला दबाया और तुलसी ने गुड्डू के पैर पकड़े। जिसके बाद दम घुटने से उसकी मौत हो गई। वारदात के बाद सबूत छुपाने के लिए दोनों ने रात में शव को गांव से करीब एक किलोमीटर दूर चट्टान से खाई में फेंक दिया। राजस्व पुलिस की टीम ने तुलसी देवी की निशानदेही पर खाई में शव की खोज की तो वहां एक मानव पैर का कंकाल पड़ा मिला। जिसे जांच के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया गया। सवाल ये है कि आखिर देवभूमि में रिश्तों को किसकी नज़र लग गई है ?

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: wife killed husband in chamoli district

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें