उत्तराखंड से रोहिंग्या मुस्लिम चुन-चुनकर बाहर होंगे, सीएम त्रिवेंद्र का बड़ा ऐलान

उत्तराखंड में सुरक्षा के रोहिंग्या मुसलमान खतरा बनते जा रहे हैं। ऐसे में सीएम त्रिवेंद्र ने ऐलान कर दिया है कि रोहिंग्या चुन-चुनकर बाहर किए जाएंगे।

uttarakhand govt about rohingya - trivendra singh rawa, rohingya muslim, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,सुषमा स्वराज,त्रिवेंद्र सिंह रावत,उत्तराखंड,घुसपैठ,सीएम एप,बांग्लादेशी, बीजेपी

उ्तराखंड में रोहिंग्या मुस्लिमों का बढ़ती जनसंख्या पर सरकार सख्त हो गई है। साफ ऐलान हो गया है कि उत्तराखंड से रोहिग्या मुस्लिमों को चुन-चुनकर बाहर खदेड़ दिया जाएगा। इस वक्त शहर ही नहीं बल्कि उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों से भी रोहिंग्या बांग्लादेशी घुसपैठियों की खबर सामने आ रही है। रोहिंग्या सुरक्षा के लिए इसलिए भी बड़ा खतरा हैं क्योंकि हाल ही में सुरक्षा एजेंसियों ने साफ तौर पर बताया था आतंकियों और कश्मीर के पत्थरबाजों से भी रोहिंग्या मुस्लिमों का कनेक्शन है। खुद संसद में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इस बारे में बड़ी बातें बता चुकी हैं। इस बीच उत्तराखंड में रोहिंग्या मुस्लिमों की आबाद का बढ़ना हर हांल में चिंता की सबसे बड़ी वजह है। इस बारे में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने खुले शब्दों में अपना बयान दे दिया है।

यह भी पढें - उत्तराखंड से रोहिंग्या मुसलमान बाहर खदेड़े जाएंगे, सरकार ने साफ तौर पर दी चेतावनी
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड में किसी भी हाल में घुसपैठ को सहन नहीं की जाएगी। चाहे कोई बांग्लादेशी हो या फिर वो रोहिंग्या मुसलमान हो। हर किसी की तलाश करके इसे उत्तराखंड की सीमा से बाहर किया जाएगा। प्रदेश बीजेपी ऑफिस में मीडिया कर्मियों से बात करते हुए सीएम त्रिवेंद्र ने ये बातें कहीं। इस दौरान उनसे सवाल पूछा गया कि रुड़की में 400 संदिग्ध घुसपैठियों की जानकारी मिली है । इसके जवाब में सीएम ने अपना इरादा जाहिर कर दिया। उन्होंने कहा कि घुसपैठ को किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। दरअसल उत्तराखंड सामरिक दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण और संवेदनशील है। सरकार ही नहीं बल्कि प्रदेश की जनता भी इस बात को अच्छी तरह से जानती है। इस बारे में सीएम त्रिवेंद्र ने जनता से भी अपील की है।

यह भी पढें - देहरादून में बवाल..व्यापारियों पर पुलिस का लाठीचार्ज, छावनी में बदला प्रेमनगर
उन्होंने कहा कि कि जनता से अपेक्षा है कि अगर उन्हें कोई संदिग्ध व्यक्ति लगे, तो इस बारे में सरकार को खबर करें। सीएम एप के माध्यम से भी ये सूचना आप दे सकते हैं। घुसपैठ की सूचना सही पाए जाने पर सरकार एक-एक को चुनकर बाहर खदेड़ेगी। कुल मिलाकर कहें तो इस वक्त उत्तराखंड सरकार रोहिंग्या मुसलमानों और बांग्लादेशी घुसपैठियों को लेकर सख्त हो गई है। खानपुर विधायक कुंवर प्रणब सिंह चैंपियन के खुलासे के बाद से इस मामले ने और बी ज्यादा तूल पकड़ा था। उत्तराखँड में बांग्लादेशियों की घुसपैठ को लेकर आरएसएसभी काफी सजग हैं। कुछ दिन पहले सरकार, संगठन और आरएसएस की समन्वय बैठक में रोहिंग्याओं की घुसपैठ का मसला गरमाया था। संघ ने भी उम्मीद जताई थी कि रोहिंग्याओं को उत्तराखंड से खदेड़ने का काम किया जाएगा।


Uttarakhand News: uttarakhand govt about rohingya

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें