उत्तराखंड को पहली बार मिली NDRF की बटालियन, पीएम मोदी ने दी बड़ी सौगात

उत्तराखंड के लिए अच्छी खबर ये है कि उत्तराकंड को पहली एनडीआरएफ की बटालियन मिलने वाली है। आइए इस बारे में जानिए

NDRF battalion in uttarakhand  - Uttarakhand ndrf, uttarakhand aapda , uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,,उत्तराखंड,

उत्तराखंड के लिए एक शानदार खबर है। पीएम मोदी ने उत्तराखंड में आपदा को देखते हुए NDRF की स्थायी बटालियन तैनात करने की घोषणा की है। ये पहली बार हो रहा कि NDRF की एक परमानेंट बटालियन अब हर तरह की आपदा से लड़ने के लिए उत्तराखंड में ही मौजूद रहेगी। इससे पहले हमने आपको बताया था कि उत्तराखंड के राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने राज्यसभा में ये मांग की थी। उन्होंने कहा था कि उत्तराखंड को हर हाल में NDRF की एक स्थायी बटालियन मिलनी चाहिए। अच्छी बात ये है कि प्रधानमंत्री ने इस पर ध्यान दिया और उत्तराखंड के लिये ये खुशखबरी दी है। उत्तराखंड में बारिश के वक्त जगह जगह तबाही मचती है ऐसे में तुरंत राहत पहुंचाने के लिए NDRF बटालियन मददगार साबित होगी। जंगलों में लगने वाली भयानक आग के वक्त भी ये बटालियन मददगार साबित होगी।

यह भी पढें - पीएम मोदी उत्तराखंड आने वाले हैं, रोजगार के लिए हो रहा है बड़ा काम
वैसे भी आप देख रहे होंगे कि उत्तराखंड में इस वक्त ही कई जगह NDRF की कंपनियां तैनात हैं। उत्तराखंड आपदा को लेकर संवेदनशील प्रदेश है, ये जानने के बाद भी अब तक यहां NDRF की बटालियन तैनात नहीं थी। आखिरकार राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने राज्यसभा में मांग रखी तो पीएम मोदी ने ये कदम उठाया। इसके लिए अनिल बलूनी ने पीएम मोदी का आभार जताया था। अनिल बलूनी ने राज्यसभा में उत्तराखंड की आपदा का मुद्दा उठाया था और मांग की थी कि "बचाव कार्यों में तुरंत मदद के लिए उत्तराखंड में एनडीआरएफ की स्थायी बटालियन की स्थापना की जानी चाहिए"। बलूनी ने कहा था कि "उत्तराखंड में बादल फटने, भूस्खलन, बाढ़, जलभराव, अतिवर्षा, वनाग्नि जैसी घटनाएं घटित होती रहती हैं’।

यह भी पढें - संसद में उठा उत्तराखंड आपदा का मुद्दा, अनिल बलूनी ने की विशेष राहत पैकेज की मांग
बलूनी ने आगे कहा था कि ‘राज्य सरकार के सीमित संसाधन पूरी क्षमताओं के बाद भी अपेक्षित राहत नहीं दे पाते"। इस पर उन्होंने उत्तराखंड में NDRF की एक परमानेंट यूनिट की मांग की थी और कहा था कि इन परिस्थितियों से लड़ने में ये कदम कारगर होगा। इससे पहले भी धूमाकोट हादसे के बाद उत्तराखंड से राज्यसभा सासंद अनिल बलूनी ने कहा था कि वो अपनी सासंद निधि से उत्तराखंड की अलग अलग जगहों में ICU सेंटर बनाना चाहते हैं. उत्तराखंड में तीन जगहों यानी कोटद्वार, रामनगर और उत्तरकाशी में ICU सेंटर बनेंगे। ख़ास बात ये है कि इसी साल इन ICU सेंटर का निर्माण कार्य पूरा होगा। बाद में भी उत्तराखंड में हर साल दो से तीन ICU बनेंगे। ये काम अनिल बलूनी अपनी सांसद निधि से ही पूरा करेंगे। अब उत्तराखंड को उन्होंने एक और अच्छी खबर दी है।


Uttarakhand News: NDRF battalion in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें