पहाड़ में भीषण हादसा टला..2 हजार मीटर की ऊंचाई पर रपटी जीप, ऐसे बची 7 लोगों की जान

थल-मुनस्यारी रोड पर सवारियों से भरी जीप बेकाबू होकर पलट गई, पर शुक्र है कि जीप में सवार सभी यात्री सलामत हैं...

Vehicle overturned on road - Vehicle overturned, pithoragarh, accident, Uttarakhand, मुनस्यारी, पिथौरागढ़, थल-मुनस्यारी रोड, उत्तराखंड, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पहाड़ में सफर सुरक्षित नहीं रह गया है, हर दिन सड़क हादसे हो रहे हैं। मुनस्यारी में भी एक दर्दनाक सड़क हादसा होते-होते टल गया। यहां सड़क पर जमी बर्फ के ऊपर पाला गिरे होने से एक जीप बेकाबू होकर पलट गई। गनीमत रही कि जीप चट्टान की तरफ पलटी, अगर जीप खाई की तरफ पलटी होती तो बड़ा हादसा हो जाता। जिस वक्त ये हादसा हुआ, जीप में 7 लोग सवार थे, जिनकी जान बाल-बाल बची। तीन सवारियों को हल्की-फुल्की चोट आई है, पर शुक्र है कि सभी सुरक्षित हैं। घटना थल-मुनस्यारी रोड की है, जो कि सबसे दुर्गम पहाड़ी मार्गों में से एक है। 2730 मीटर की ऊंचाई पर वाहन चलाते वक्त ड्राइवर और सवारियों की सांसें हलक में अटकी रहती हैं। शुक्रवार शाम सवारियों से भरी जीप हल्द्वानी से मुनस्यारी की तरफ आ रही थी।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में भीषण हादसा, रोडवेज बस ने होटल मैनेजर को कुचला..दर्दनाक मौत
रास्ते पर बर्फ जमी थी, उस पर पाला गिरने की वजह से रास्ते में फिसलन भी थी। शाम साढ़े छह बजे जीप ने 2728 मीटर ऊंचाई वाले कालामुनि को पार किया। यहां से जीप बिटलीधार की तरफ आ रही थी। इसी दौरान एक छोटे से मोड़ पर ड्राइवर ने जीप की रफ्तार कम करने के लिए ब्रेक लगाया तो जीप के टायर पाले में घूम गए। बेकाबू जीप सड़क पर पलट गई। अगर जीप खाई की तरफ लुढ़कती तो सीधे छह सौ मीटर गहरी खाई में गिरती, पर शुक्र है कि ऐसा नहीं हुआ। मौके से हादसे की दिल दहला देने वाली तस्वीरें सामने आई हैं। थल-मुनस्यारी में सबसे खतरनाक खाई इसी जगह पर स्थित हैं। 4 यात्री सुरक्षित हैं, जबकि 3 को हल्की चोट आई हैं। हादसे की सूचना मिलने पर प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और घायल यात्रियों को अस्पताल पहुंचाया, अस्पताल में इलाज के बाद सभी को दूसरे वाहन से मुनस्यारी रवाना कर दिया गया।


Uttarakhand News: Vehicle overturned on road

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें