पहाड़ में घास काटने गई महिला पर गिरी चट्टान, मौके पर ही दर्दनाक मौत

जंगलों में घास काटते वक्त महिलाएं अक्सर हादसों का शिकार हो जाती हैं, रांथी गांव की रहने वाली राधा देवी के साथ भी ऐसा ही हुआ....

Death due to falling into ditch - falling into ditch, boulder collides with woman, pithoragarh, Uttarakhand, पिथौरागढ़, खाई में गिरने से मौत, बोल्डर गिरने से मौत, उत्तराखंड, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पहाड़ की जिंदगी, पहाड़ जैसी ही मुश्किल है। पहाड़ और हादसे एक दूसरे का पर्याय बन गए हैं। यहां की विषम भौगोलिक परिस्थितियां भी हादसों की अहम वजह है। कब कहां चट्टान टूट कर गिर पड़े, कब कहां भूस्खलन हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता। आए दिन होने वाले हादसों में कई लोग अपनी जान गंवा देते हैं। महिलाओं के लिए तो हालात और भी कठिन हैं, क्योंकि मवेशियों के चारे से लेकर घर के लिए पानी और दूसरे संसाधन जुटाने तक की जिम्मेदारी उन्हीं पर होती है। पहाड़ी इलाकों में घास काटते वक्त जंगली जानवरों का खतरा तो होता ही है, पहाड़-चट्टान के टूटने का अंदेशा भी बना रहता है। पिथौरागढ़ की रहने वाली राधा देवी के साथ भी ऐसा ही हुआ। गांव में बोल्डर की चपेट में आने से राधा देवी खाई में गिर गई थी, जिस वजह से उनकी मौत हो गई। हादसा रांथी गांव में हुआ, जहां राधा देवी अपनी जेठानी नंदा देवी के साथ जंगल गई हुई थी।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: खाई में गिरी मैक्स, भीषण हादसे में पूर्व फौजी की मौत
दोनों मवेशियों के चारे का इंतजाम करने के लिए घास काट रहे थे। बुढ़काफल की पहाड़ी पर घास काटते वक्त अचानक पहाड़ी से बोल्डर गिरने लगे। बोल्डर की चपेट में आकर 37 साल की राधा देवी गहरी खाई में जा गिरी। राधा देवी की जेठानी नंदा देवी ने तुरंत गांव पहुंचकर लोगों को इस हादसे के बारे में बताया। शाम 7 बजे ग्रामीण किसी तरह खाई तक पहुंचे और राधा देवी को खाई से निकाल कर अस्पताल ले गए। धारचूला अस्पताल में डॉक्टरों ने राधा देवी को मृत घोषित कर दिया। महिला की मौत के बाद से गांव में मातम पसरा है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।


Uttarakhand News: Death due to falling into ditch

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें