पहाड़ में तैनात ये SDM मरीजों का इलाज भी करता है, अपनी पत्नी को भी समाजसेवा में जोड़ा

संयुक्ति मजिस्ट्रेतट सौरव गहरवार के साथ अब उनकी पत्नी डॉ. सोनाली भी गंगोलीहाट सीएचसी पर सेवाएं देंगी...

Dr Sonali joined chc gangolihat - chc gangolihat, joint magistrate sourav gaharwar, gangolihat, nainital, Uttarakhand, पिथौरागढ़, गंगोलीहाट, डॉ. सौरव गहरवार, डॉ. सोनाली सिंह बघेल, नैनीताल, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पहाड़ की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं का हाल किसी से छिपा नहीं है। कहीं डॉक्टर नहीं हैं तो कहीं बेड और दवाईयां...गंगोलीहाट का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भी ऐसी ही दिक्कतों से जूझ रहा था। अस्पताल में रेडियोलॉजिस्ट नहीं था। इसी दौरान गंगोलीहाट में बतौर संयुक्त मजिस्ट्रेट डॉ. सौरव गहरवार की तैनाती हुई। डॉ. सौरव गहरवार आईएएस अफसर होने के साथ-साथ रेडियोलॉजिस्ट भी हैं। जब उन्हें अस्पताल में रेडियोलॉजिस्ट ना होने की बात पता चली तो वो खुशी-खुशी अस्पताल में अपनी सेवाएं देने को तैयार हो गए। अब इस स्वास्थ्य केंद्र में डॉ. सौरव गहरवार की धर्मपत्नी डॉ. सोनाली सिंह बघेल भी सेवाएं देंगी। डॉ. सोनाली सिंह बघेल स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं। गंगोलीहाट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉ. गहरवार दंपती अपनी सेवाएं देंगे। मानव सेवा के प्रति अपना फर्ज निभाने की जो पहल डॉ. सौरव गहरवार ने की थी, उनकी पत्नी डॉ. सोनाली सिंह बघेल अब उस कोशिश को आगे बढ़ा रही हैं।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: महिला का हत्यारा पति नहीं बल्कि ससुर था, बहू को अपनी पत्नी बताता था
डॉ. सोनाली सिंह बघेल को गंगोलीहाट अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ के रूप में तैनाती मिली है। एक नवंबर को डॉ. सोनाली ने अपना कार्यभार ग्रहण किया। डॉ. सोनाली ने स्वास्थ्य महानिदेशालय की ओर से आयोजित किए गए साक्षात्कार में गंगोलीहाट सीएचसी में तैनाती का विकल्प दिया था। जिस पर स्वास्थ्य महानिदेशक ने उन्हें गंगोलीहाट में नियुक्ति का आदेश दिया था। गांव की महिलाएं अब राहत महसूस कर रही हैं, क्योंकि अस्पताल को नई गायनोकोलॉजिस्ट मिल गई है, अब प्रसूताओं को इलाज के लिए शहर नहीं जाना पड़ेगा। आईएएस अधिकारी डॉ. गहरवार भी अस्पताल को सेवाएं दे रहे हैं। वो आईएएस अधिकारी होने के साथ-साथ एमबीबीएस डॉक्टर भी हैं। पिछले 8 महीने से वो हर रविवार स्वास्थ्य केंद्र में रेडियोलॉजिस्ट के तौर पर गर्भवती महिलाओं और अन्य मरीजों का अल्ट्रासाउंड करते हैं। डॉ. सोनाली की तैनाती के बाद स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टरों की संख्या 6 हो गई है, पर अस्पताल में अब भी कई पद खाली हैं।


Uttarakhand News: Dr Sonali joined chc gangolihat

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें