उत्तराखंड का परिवहन विभाग मालामाल हो गया, नए नियम-कानून से भर गया खजाना

नए एमवी एक्ट ने लोगों की जेब जरूर ढीली कराई है, पर परिवहन विभाग इससे खुश है, खुश होने की वजह भी जान लीजिए...

Transport department revenue increased after implementation of new motor vehicle act - new motor vehicle act, Transport department, Uttarakhand, Dehradun, परिहवन विभाग, एमवी एक्ट, मोटर व्हीकल एक्ट, देहरादून, उत्तराखंड, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

नए एमवी एक्ट ने लोगों की जेब तो ढीली कराई, पर उन्हें ट्रैफिक नियमों का पालन करना सिखा दिया। भारी जुर्माना पीड़ित लोगों की कहानियां सोशल मीडिया पर भरी पड़ी हैं। जुर्माने से डरे अभिभावकों ने बेटों से उनकी स्कूटी-बाइक छीन ली। पापा अब बच्चों को टेस्ट ड्राइव तक के लिए बाइक-स्कूटी नहीं देते। एमवी एक्ट के भारी जुर्माने ने लोगों की जेब काट ली, पर परिवहन विभाग की तो समझो लॉटरी लग गई। विभाग वाले खुश हैं और होंगे भी क्यों नहीं, नए एमवी एक्ट से परिवहन विभाग मालामाल जो हो गया है। विभाग के राजस्व में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। एक सितंबर को नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद से अब तक 1700 चालान किए गए हैं। 145 गाड़ियों को सीज किया गया, जिनसे 52 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया है। एमवी एक्ट से डरे लोग नया ड्राइविंग लाइसेंस बना रहे हैं, जिनका पुराना हो गया है वो लाइसेंस रिन्यू करा रहे हैं। गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन हो रहा है, जिससे विभाग के राजस्व में बढ़ोतरी हो रही है। एआरटीओ अरविन्द पांडे ने बताया की नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद अब तक 1700 चालान किए गए हैं, जिससे 52 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया है। नए एमवी एक्ट को लेकर शुरुआत में बवाल भी खूब हुआ था, पर धीरे-धीरे लोगों ने इसे अपना लिया है। जो लोग ट्रैफिक रूल्स फॉलो करते हैं वो नए एमवी एक्ट से खुश हैं, लापरवाह लोगों को भी भारी जुर्माने के डर ने लाइन पर ला दिया है।
यह भी पढ़ें - उत्तरकाशी DM ने अचानक मारा छापा, बीच सड़क पर खुली भ्रष्टाचार की पोल


Uttarakhand News: Transport department revenue increased after implementation of new motor vehicle act

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें