उत्तराखंड: भीषण हादसे में 10 लोगों की मौत, मोबाइल नेटवर्क होता तो बच सकती थी जान

उत्तराखंड में किस तरह से सुविधाओं का टोटा है, ये बात इस भीषण हादसे के बाद साफ जाहिर होती है। पढ़िए पूरी खबर

DEVAL BLOCK ACCIDENT UPPDATE - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, देवाल ब्लॉक एक्सीडेंट, चमोली मैक्स हादसे में 10 लोगों की मौत, Uttarakhand news, latest Uttarakhand news, Dewal block accident, 10 people died in Chamoli Max a, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

10 लोगों की मौत..ये कोई मामूली बात नहीं। उत्तराखंड के चमोली जिले के दूरस्थ क्षेत्र बलाण में भीषण सड़क हादसा हुआ और इस हादसे में 10 लोगों की मौत हो गई थी। क्या आप जानते हैं कि ये जानें बच सकती थीं ? दरअसल इस सड़क दुर्घटना की खबर प्रशासन तक पहुंचने-पहुंचने में दो घंटे का वक्त लग गया। दुर्घना के वक्त एक एक सेकंड कीमती होता है, 2 घंटे तो बहुत दूर की बात है। जिन घायलों की बचने की उम्मीद थी, देरी की वह से उन्होंने भी दम तोड़ दिया। देवाल से आगे घेस घाटी एक ऐसी घाटी है, जहां संचार की कोई सुविधा नहीं है। यहां से अगर आपको कोई भी सूचना देनी है तो इसके लिए 30 किमी दूर सवाड़ के नजदीक आकर ही मोबाइल नेटवर्क मिल पाता है। जब ये दुर्घटना हुई, तो इसकी सूचना देने के लिए गांव वालों को दुर्घटनास्थल से 30 किमी दूर सवाड़ जाना पड़ा। दो घंटे के बाद प्रशासन को खबर मिली की कोई हादसा हुआ है। बड़ी मुश्किल से 108 से संपर्क हो सका था। ऊपर से सड़कों की स्थिति इतनी बदहाल है कि यहां पर वाहन 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ज्यादा नहीं चल पाते। ये भी एक वजह रही कि प्रशासन की टीम को दुर्घटनास्थल तक देरी से पहुंची। खैर...सीएम त्रिवेन्द्र ने हादसे में मृतक के परिजनों और घायलों के लिए मुआवजे की घोषणा की है। मृतक के परिजन को दो-दो लाख रुपये और गंभीर घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता दिए जाने के निर्देश दिए हैं।
यह भी पढ़ें - उत्तराखंड पुलिस ने हद कर दी..लड़के को पीटा, महिलाओं को दी गालियां..देखिए वीडियो


Uttarakhand News: DEVAL BLOCK ACCIDENT UPPDATE

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें