उत्तराखंड के इस अस्पताल से सीखें सभी अस्पताल, मरीज की मौत के बाद नहीं लिए इलाज के पैसे

शहर के बड़े अस्पताल ने मरीज की मौत के बाद उसके इलाज में खर्च हुए 1 लाख 27 हजार रुपये की फीस माफ कर दी, पढ़ें पूरी खबर

Kailash hospital lift one lakh after patient death - Dehradun, Kailash hospital, health department, Uttarakhand, उत्तराखंड, देहरादून, कैलाश हॉस्पिटल, हरिद्वार रोड, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

निजी अस्पतालों पर अक्सर लूट-खसोट और लापरवाही के आरोप लगते रहे हैं, कई बार डॉक्टर्स का अमानवीय चेहरा भी देखने को मिला है, पर देहरादून के हरिद्वार रोड पर स्थित एक निजी अस्पताल ने जो किया वो देख आप भी निजी अस्पतालों की छवि के बारे में एक बार फिर से सोचने पर मजबूर हो जाएंगे। इस अस्पताल में एक गरीब मरीज की मौत हो गई थी, उसके इलाज पर 1 लाख 27 हजार रुपये का खर्चा आया था। परिवार ने जब ये फीस जमा कराने में असमर्थता जताई तो निजी अस्पताल प्रबंधन ने सारी फीस माफ कर दी। ये घटना ऐसे वक्त में हुई है, जबकि कई बार मरीज की मौत के बाद निजी अस्पताल वाले परिजनों को शव तक नहीं ले जाने देते। जब तक परिजन इलाज की पूरी फीस नहीं देते उन्हें लाश तक नहीं ले जाने दी जाती। इस तरह शोक संतप्त परिवारवालों को दुखद परिस्थिति का सामना करना पड़ता है। देहरादून का ये अस्पताल हरिद्वार रोड पर स्थित है। बीते 9 अक्टूबर को यहां 35 साल के राशिद को भर्ती कराया गया था। राशिद के दिमाग की नस फट गई थी, उसकी हालत गंभीर थी। डॉक्टरों ने उसे वेंटिलेटर पर रखा था। शनिवार को राशिद ने दम तोड़ दिया। मरीज की मौत के बाद प्रबंधन ने परिजनों से 1 लाख 27 हजार रुपये का बकाया भुगतान करने को कहा, तब राशिद के परिजनों ने भुगतान कर पाने में असमर्थता जताई। राशिद के परिजनों की आर्थिक स्थिति दयनीय है। जो पैसा उनके पास था उसे वो पहले ही राशिद के इलाज में लगा चुके थे। अस्पताल प्रबंधन ने परिवार की मजबूरी समझी और इलाज पर आए खर्चे को माफ कर दिया। अस्पताल प्रबंधन ने बिना फीस लिए मरीज का शव परिजनों को सौंप दिया।
यह भी पढ़ें - पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के छोटे बेटे की शादी कल, राज परिवार से हैंं बहू..देखिए तस्वीरें


Uttarakhand News: Kailash hospital lift one lakh after patient death

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें