बड़ी खबर: RTO देहरादून नाम की वेबसाइट से हुई 49 हजार रुपये की ठगी, जानिए कैसे

पुलिस ने आरटीओ देहरादून नाम की वेबसाइट के खिलाफ 13 दिन पहले ही एक्शन ले लिया होता तो दिल्ली के युवक संग ठगी ना होती...

cheating of 49 thousand rupees from rto Dehradun website - rto Dehradun, rto fraud, Dehradun, crime news, Uttarakhand, देहरादून, उत्तराखंड, आरटीओ, साइबर क्राइम, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए किसी वेबसाइट की हेल्प कतई ना लें। शातिर ठग अब लोगों को चूना लगाने के लिए फर्जी वेबसाइट्स की मदद ले रहे हैं। आरटीओ देहरादून के नाम से लोगों को ठगा जा रहा है। शुक्रवार को ऋषि सेठी नाम के युवक ने वसंत विहार पुलिस में ठगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पीड़ित ने बताया कि वो दिल्ली में रहता है। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है। 28 सितंबर को उन्होंने डीएल बनवाने की प्रक्रिया जानने के लिए आरटीओ देहरादून नाम की वेबसाइट से नंबर लिया। नंबर पर फोन करने पर जिस आदमी ने फोन उठाया वो खुद को आरटीओकर्मी बता रहा था। उसने कहा कि वो ऋषि को एक लिंक भेजेगा, जिस पर पांच रुपये ट्रांसफर करने होंगे। बस यहीं पर ऋषि से गलती हो गई। ऋषि के 5 रुपये संबंधित अकाउंट में ट्रांसफर करते ही उनके खाते से 49 हजार 6 सौ रुपये कट गए। पीड़ित ने अब पुलिस से मदद मांगी है। हैरानी वाली बात ये है कि इसी तरह का एक मामला 13 दिन पहले भी सामने आ चुका है। वसंत विहार में रहने वाली नीलम नाम की युवती ने आरटीओ देहरादून नाम की वेबसाइट के जरिए 48 हजार 900 रुपये की ठगी का केस दर्ज कराया था। पुलिस ने अगर 13 दिन पहले मिली शिकायत को गंभीरता से लिया होता, आरोपियों की धरपकड़ के लिए प्रयास तेज किए होते तो शायद दिल्ली का रहने वाला युवक ठगी का शिकार होने से बच जाता। हमारी आपसे अपील है कि साइबर ठगों के चंगुल में ना फंसें। सतर्क रहें, कोई लाइसेंस बनवाने के लिए रुपयों की डिमांड करें तो पुलिस को सूचना दें।


Uttarakhand News: cheating of 49 thousand rupees from rto Dehradun website

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें