टिहरी गढ़वाल के केमरसौड़ गांव का बेटा..कभी चीन में वेटर था, आज 7 रेस्टोरेंट्स का मालिक है

देव रतूड़ी यानी द्वारका प्रसाद रतूड़ी। आज देव रतूड़ी चीन में 7 रेस्टोरेंट्स के मालिक हैं…जानिए उनकी कहानी

DWARKA PRASAD RATURI DEV RATURI FROM TEHRI GARHWAL - Dev raturi Uttarakhand, tehri news, Uttarakhand news, Dehradun, देव रतूड़ी, टिहरी गढ़वाल, गढ़वाल न्यूज, केमरसौड़, दिलीप जावलकर, देहरादून न्यूज, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

किसने सोचा था कि पहाड़ के छोटे से गांव का एक लड़का चीन में जाकर अपने अभिनय का डंका बजाएगा, पर ऐसा हुआ है। कहानी फिल्मी जरूर है, लेकिन है सौ टका सच। ये खबर पढ़कर आप चौंकेंगे, और गर्व भी महसूस करेंगे, क्योंकि पहाड़ का एक होनहार युवा चीनी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान बना चुका है। इस युवक का नाम है देव रतूड़ी। चीन में लोग उन्हें इसी नाम से जानते हैं। टिहरी गढ़वाल में एक छोटा सा गांव है केमरसौड़। देव इसी गांव के रहने वाले हैं। वैसे उनका पूरा नाम द्वारका प्रसाद रतूड़ी है, पर अब उन्हें लोग देव रतूड़ी के नाम से जानते हैं। देव ने सिर्फ 10वीं तक की पढ़ाई की है। कभी वो वेटर का काम करते थे, लेकिन आज उनके चीन में रेड फोर्ट और अंबर नाम से 7 रेस्टोरेंट हैं। यही नहीं उन्होंने चाइनीज फिल्मों में काम भी किया है। कहते हैं मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता, ये बात देव रतूड़ी पर एकदम फिट बैठती है। देव महज 10वीं तक पढ़े हैं, लेकिन अपनी मेहनत के दम पर आज वो सफल हैं। साल 1995 में देव रोजगार की तलाश में दिल्ली गए थे। यहां कई साल तक 4 सौ रुपया महीने वाली नौकरी करते रहे। घर-घर दूध बेचा। गाय-भैसों को नहलाया। होटल में कुर्सी-टेबल साफ किए, पर अपने सपनों को मरने नहीं दिया। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - देवभूमि की बेटी को अनंत शुभकामनाएं, एक कमरे से शुरू की थी कंपनी, अब विदेश में भी बढ़ी डिमांड..सैकड़ों लोगों को रोजगार
साल 1998 में देव रतूड़ी मुंबई चले गए। जहां उनके भाई फिल्म अभिनेता पुनीत इस्सर के ड्राइवर थे। उनकी लाइफ का टर्निंग प्वाइंट आया साल 2005 में, जब उन्हें चीन के शियान शहर में वेटर की नौकरी मिली। उन्होंने मेहनत की, साथ ही चीनी लैंग्वेज भी सीखी। साल 2013 तक वो जर्मन रेस्टोरेंट और अमेरिकन रेस्ट्रोरेंट में काम कर चुके थे, लाखों रुपये कमा रहे थे। साल 2013 में उन्हें शियान में इंडियन रेस्टोरेंट खोलने का मौका मिला। पर पास में पैसे नहीं थे। तब उन्होंने अपने पुराने मालिक से आर्थिक मदद मांगी। रेस्टोरेंट खुलने के साथ ही देव रतूड़ी के लिए तरक्की के दरवाजे भी खुल गए। 24 साल की मेहनत के बाद देव रतूड़ी चीन में 7 रेस्टोरेंट के मालिक बन गए हैं। वो रेड फोर्ट इंडियन नाम से 4 और अंबर नाम ते तीन मशहूर रेस्टोरेंट की चेन चला रहे हैं। देव ने चीन की कई फिल्मों में काम किया है, यही नहीं हॉलीवुड फिल्म आयरन स्काई में भी देव को काम करने का मौका मिला। वो बिग हॉर्बर नाम की टीवी सीरीज भी कर रहे हैं, जो जल्द टेलीकास्ट होगी। देव भले ही चायना के मशहूर बिजनेसमैन बन गए हों, पर पहाड़ से उनका लगाव कभी कम नहीं हुआ। वो अब इंडिया में 500 करोड़ रुपये का निवेश करना चाहते हैं। इसके लिए वो लगातार प्रयास कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर से मुलाकात भी की। उन्हें अपनी योजना बताई। उन्होंने कहा कि अक्टूबर में चीन के कारोबारियों का एक प्रतिनिधिमंडल दून आएगा, आगे की प्लानिंग तभी होगी।


Uttarakhand News: DWARKA PRASAD RATURI DEV RATURI FROM TEHRI GARHWAL

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें