पूर्व CM हरीश रावत पर केस दर्ज करेगी CBI, दो मिनट में जानिए पूरी खबर

पूर्व CM हरीश रावत पर केस दर्ज करेगी CBI, दो मिनट में जानिए पूरी खबर

Cbi will file case against former cm harish rawat - Harish rawat, former cm harish rawat, sting case, Dehradun, Uttarakhand, sting case Cbi,  उत्तराखंड लेटेस्ट न्यूज, हरीश रावत, हरीश रावत कैबिनेट, स्टिंग केस, नैनीताल हाईकोर्ट, सीबीआई, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज कांग्रेस नेता हरीश रावत की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में फंसे हरीश रावत के खिलाफ सीबीआई मुकदमा दर्ज करेगी। सीबीआई ने कथित स्टिंग मामले की प्रारंभिक जांच पूरी कर ली है। जांच रिपोर्ट हाल ही में हाईकोर्ट को सौंपी गई। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 20 सितंबर की तारीख तय की है। अपनी रिपोर्ट में सीबीआई ने क्या कहा है ये भी जान लें। सीबीआई ने कहा कि पूर्व सीएम हरीश रावत के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। सीबीआई ने नैनीताल हाईकोर्ट में प्रार्थना पत्र भी दाखिल कर दिया है। कथित स्टिंग मामला है क्या ये भी बताते हैं। बात साल 2016 की है। ये साल उत्तराखंड की राजनीति में भूचाल लेकर आया। मार्च 2016 में विधानसभा में वित्त विधेयक पर वोटिंग के बाद नौ कांग्रेस विधायकों ने बगावत कर दी थी। बाद में एक न्यूज चैनल ने विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त का स्टिंग जारी किया था।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड के पूर्व CM कोश्यारी की नई पारी का आगाज, महाराष्ट्र के राज्यपाल बनाए गए
इसी स्टिंग के आधार पर तत्कालीन राज्यपाल कृष्णकांत पॉल ने केंद्र सरकार को मामले की सीबीआई जांच कराने की संस्तुति भेजी थी। लगातार जारी हंगामे के बीच केंद्र ने रावत सरकार को बर्खास्त कर दिया था। पर हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद हरीश रावत सरकार दोबारा बहाल हो गई। इसी बीच कैबिनेट ने स्टिंग प्रकरण की जांच सीबीआई से हटाकर एसआईटी से कराने का फैसला किया। पर हरीश रावत की दिक्कतें उस वक्त बढ़ गईं, जब बागी विधायक और वर्तमान वन एवं पर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत ने हरीश रावत कैबिनेट के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दे दी। हरक सिंह रावत ने कहा कि जब एक बार राज्यपाल मामले की सीबीआई जांच की संस्तुति केंद्र को भेज चुके हैं, तो आदेश को वापस नहीं लिया जा सकता। इस मामले में कोर्ट ने सीबीआई से कहा था कि हरीश रावत के खिलाफ कोई भी एक्शन लेने से पहले उन्हें कोर्ट को जानकारी देनी होगी। अब सीबीआई हरीश रावत के खिलाफ केस दर्ज करने जा रही है। इससे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की मुश्किलें बढ़ेंगी। हरीश रावत इस बात के संकेत पहले ही दे चुके है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कुछ ताकतें उन्हें मिटा देना चाहती हैं। पर वो गंगलोड़, यानि नदी में मिलने वाले पत्थर की तरह लुढ़कते, घिसते-घिसते मिट्टी में मिल जाएंगे पर टूटेंगे नहीं।


Uttarakhand News: Cbi will file case against former cm harish rawat

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें