देहरादून के हाई-प्रोफाइल हत्याकांड पर बड़ा खुलासा, 450 करोड़ के लिए हुआ व्यापारी का मर्डर

जैसा कि पहले से ही अंदेशा था देहरादून में केरल के व्यापारी से जुड़े हत्याकांड में एक बड़ा खुलासा हुआ है। आप भी पढ़िए

DEHRADUN ABDUL SHAKOOR DEATH MISTRY Bitcoin cryptocurrency - देहरादून व्यापारी हत्याकांड, देहरादून न्यूज, देहरादून क्रिप्टो करेंसी, देहरादून बिट कॉइन, Dehradun merchant murder case, Dehradun news, Dehradun crypto currency, Dehradun bit coin, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

देहरादून में व्यापारी के हत्याकांड को लेकर पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। जैसा कि अंदाजा लगाया जा रहा था कि ये हत्याकांड कोई मामूली नहीं बल्कि बड़ी साजिश का खुलासा कर सकता है। हुआ भी कुछ ऐसा ही है। अब तक हुआ खुलासा कहता है कि केरल के शख्स की हत्या 485 करोड़ की क्रिप्टो करेंसी के लिए की गई है। क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी मुद्रा है, जो कंप्यूटर प्रोग्राम पर बनी होती है। यूं समझ लीजिए कि ये करेंसी किसी भी सरकार या संस्था के कंट्रोल में नहीं होती। ये एक डिजिटल करेंसी है जिसके लिए क्रिप्टोग्राफी का प्रयोग होता है। अब सवाल ये है कि देहरादून मे हुए हत्याकांड का इससे क्या लेना-देना है। दरअसल शकूर 450 करोड़ की क्रिप्टो करेंसी का मालिक था। उसके अकाउंट का पासवर्ड जानने के लिए उसकी हत्या की गई। उसे बंधक बनाकर कई दिनों तक बुरी से बुरी यातनाएं दीं। यातनाएं जब बेइंतहा हुईं, तो शकूर की मौत हो गई। देहरादून पुलिस ने व्यापारी के साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में चार साथी अभी फरार हैं। पुलिस का कहना है कि व्यापारी अब्दुल शकूर ने केरल में लोगों के करीब 485 करोड़ रुपये क्रिप्टो करेंसी में निवेश किए थे। आगे पढ़िए कि उसकी हत्या कैसे की गई…

यह भी पढें - देहरादून में हाई-प्रोफाइल हत्याकांड से हड़कंप, फिल्मी सितारों और नेताओं से जुड़ सकते हैं तार
लोग जब शकूर पर रकम वापस लेने का दबाव बनाने लगे थे तो वो अंडरग्राउंड हो गया। शकूर के दोस्तों को मालूम था कि उसे बिजनेस में घाटा तो हुआ है, लेकिन उसके पास करीब 485 करोड़ रुपये की क्रिप्टो करेंसी है। ये ही वो वजह थी, जो उसकी जान की दुश्मन बनी। क्रिप्टो करेंसी का ही पासवर्ड जानने के लिए उसके दोस्त उसे घुमाने के लिए देहरादून लेकर आए। यहां उसके ही दोस्तों ने पासवर्ड जानने के लिए उसे इतनी भयंकर यातनाएं दीं कि उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि शकूर के शरीर पर 11 तरह के घाव के निशान बने हैं। पुलिस ने मांडूवाला में कमरे की तलाशी ली तो खून से सना चाकू, पेचकस और खून से सने कपड़े बरामद हुए हैं। कमरे से कई अधजली सिगरेट भी मिली हैं। माना जा रहा है कि कभी पेचकस घोंपकर तो कभी चाकू से कलाई काट कर तो कभी सिगरेट से जलाकर शकूर को यातनाएं दी गई।


Uttarakhand News: DEHRADUN ABDUL SHAKOOR DEATH MISTRY Bitcoin cryptocurrency

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें