उत्तराखंड के खाते में बड़ी उपलब्धि, देश के पहले CDS बन सकते हैं जनरल बिपिन रावत

थल सेनाध्यक्ष बिपिन रावत देश के पहले सीडीएस बन सकते हैं, दावेदारों की लिस्ट में उनका नाम सबसे ऊपर है...जानिए सीडीएस की ताकत क्या होगी

Bipin rawat may be first chief of defence staff - Bipin rawat, chief of defence staff, Uttarakhand, सेनाध्यक्ष बिपिन रावत, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के खाते में जल्द ही एक और उपलब्धि जुड़ने वाली है। पीएम नरेंद्र मोदी ने जल्द ही चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ यानि सीडीएस को नियुक्त करने की घोषणा की है। और माना जा रहा है कि देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनने का गौरव आर्मी चीफ बिपिन रावत को मिलेगा। आर्मी चीफ बिपिन रावत मूलरूप से उत्तराखंड के रहने वाले हैं। जब से उन्हें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनाए जाने की चर्चाएं तेज हुई हैं, सूबे के लोग उत्साहित हैं। पहाड़वासी पहाड़ के इस लाल को आर्मी चीफ से सीडीएस बनते देखने के लिए बेताब हैं। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से सीडीएस की नियुक्ति का ऐलान किया था। तभी से ये चर्चाएं शुरू हो गईं थीं कि आर्मी चीफ बिपिन रावत को सीडीएस बनाया जा सकता है। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का काम तीनों सेनाओं के बीच तालमेल को बेहतर बनाना होगा। खबर मिली है कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जैसे महत्वपूर्ण पद के लिए कई दावेदार मैदान में हैं, लेकिन जिस दावेदार के सीडीएस बनने के सबसे ज्यादा चांस हैं, वो हैं आर्मी चीफ बिपिन रावत। हालांकि इस बारे में फिलहाल कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

यह भी पढें - उत्तराखंड के बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर, 27 सितंबर से सेना में बंपर भर्तियां
चलिए अब आपको सीडीएस पद की विशेषताएं बताते हैं। ये फाइव स्टार जनरल पद होगा। जो थल सेना, नौसेना और वायुसेना के ऊपर का रैंक होगा। रक्षा सुधार के लिए कारगिल युद्ध पर बनी कमेटी की सिफारिश के बाद इस पद को सृजित करने की मांग की जा रही थी। फिलहाल जैसी खबरें मिल रही हैं उसके मुताबिक एक हाई लेवल कमेटी नवंबर तक सीडीएस की भूमिका और तौर-तरीकों को स्पष्ट करेगी। अभी सीडीएस को सेनाध्यक्षों के बराबर का रैंक मिलेगा। डिफेंस क्षेत्र में एक 5 स्टार सीडीएस की जरूरत लंबे वक्त से महसूस की जा रही है, जिसके पास पूरा ऑपरेशन कंट्रोल हो। इससे सेना की रणनीति ज्यादा प्रभावशाली होगी। युद्ध के दौरान सिंगल प्वाइंट आदेश जारी किया जा सकेगा। सीडीएस पद के लिए कई दावेदार हैं। वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ 30 सितंबर को रिटायर हो रहे हैं, जबकि आर्मी चीफ बिपिन रावत इसी साल 31 दिसंबर को रिटायर हो जाएंगे। अब देखना ये है कि देश का पहला सीडीएस बनने का गौरव किसे मिलता है।


Uttarakhand News: Bipin rawat may be first chief of defence staff

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें