देहरादून की सौम्या को बधाई, PCS-J में पाई सफलता..मध्य प्रदेश में जज बनेंगी

देहरादून की सौम्या ने पीसीएस जे परीक्षा में सफलता हासिल कर उत्तराखंड का गौरव बढ़ाया है, वो मध्य प्रदेश में जज बनेंगी...

dehradun Saumya to become judge in Madhya pradesh - Dehradun, Madhya Pradesh, pcs-j, civil judge, saumya singh, Uttarakhand, पीसीएस-जे, उत्तराखंड समाचार, उत्तराखंड लेटेस्ट न्यूज, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड की प्रतिभाशाली बेटी सौम्या को बधाई। सौम्या ने पीसीएस (जे) सामान्य श्रेणी में 72वीं रैंक हासिल की है। पीसीएस जे परीक्षा पास कर सौम्या मध्य प्रदेश में सिविल जज बन गई हैं। सौम्या देहरादून के सेलाकुई की रहने वाली हैं। इस वक्त उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा है। परिजन भी बेहद खुश हैं, बेटी ने पीसीएस पास कर उन्हें गौरवान्वित जो किया है। चलिए अब आपको सौम्या की सफलता का राज बताते हैं, उनके दिए टिप्स अपना कर आप भी जीवन के हर क्षेत्र में कामयाबी हासिल कर सकते हैं। सौम्या कहती हैं कि किसी भी परीक्षा में अच्छे रिजल्ट के लिए मेहनत तो जरूरी है ही, साथ ही सकारात्मक सोच रखना भी जरूरी है। पॉजिटिव रहकर हम हर तरह की मुश्किल पर जीत हासिल कर सकते हैं। सकारात्मकता आपको हमेशा कुछ बेहतर करने लिए, आशान्वित रहने के लिए प्रेरित करती है।

यह भी पढें - केदार आपदा में देवदूत बने थे कैप्टन रंजीव लाल, उत्तरकाशी में हेली क्रैश के बाद दुनिया से चले गए
सौम्या का परिवार मूल रूप से उत्तर प्रदेश के शामली जिले का रहने वाला है। उनके पिता भारतीय मृदा एवं जल संरक्षण संस्थान में बतौर सीनियर टेक्निकल ऑफिसर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। मां रेखा सिंह गृहणी हैं। सौम्या दो बहनों में सबसे बड़ी हैं। उनकी प्राइमरी एजुकेशन सेंट्रल पब्लिक स्कूल आगरा में हुई। इसी सरकारी स्कूल से उन्होंने इंटर किया। साल 2012 में उनके पिता का ट्रांसफर सेलाकुई हो गया। जिसके बाद वो परिवार के साथ देहरादून आ गईं। साल 2017 में सौम्या ने राजावाला स्थित इक्फाई यूनिवर्सिटी से लॉ की परीक्षा उतीर्ण की। तभी उन्होंने सिविल जज परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी। दूसरे प्रयास में उन्हें सफलता भी मिल गई और अब वो मध्य प्रदेश में जज बनेंगी। सौम्या को राज्य समीक्षा टीम की तरफ से बधाई, उनकी सफलता का सफर यूं ही जारी रहे..


Uttarakhand News: dehradun Saumya to become judge in Madhya pradesh

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें