उत्तराखंड के 6 जिलों में अभी नहीं थमेगी बारिश, दिल्ली-हरियाणा में बाढ़ का खतरा

उत्तराखंड में आई तबाही की बारिश से दिल्ली-हरियाणा में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है, जानिए इसकी वजह...

uttarkashi aarakot cloudburst disaster impact - arakot cloudburst disaster, uttarkashi disaster,heavy rain uttarkashi,पौड़ी,नैनीताल,पिथौरागढ़,उत्तरकाशी,चमोली,देहरादून,Pauri, Nainital, Pithoragarh, Uttarkashi, Chamoli, Dehradun, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड को बारिश के कहर से फिलहाल राहत नहीं मिलने वाली। आने वाले 24 घंटे उत्तराखंड के लिए बेहद मुश्किल भरे रहने वाले हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के 6 जिलों में भारी से भारी बारिश की चेतावनी दी है। आज कई जिलों में स्कूल बंद हैं। दून समेत दूसरे जिलों में शनिवार से लगातार बारिश हो रही है। पहाड़ों से लेकर मैदानों तक बारिश ने कोहराम मचाया हुआ है। जिन जिलों के लिए आने वाले 24 घंटे मुश्किल भरे रहने वाले हैं, उनके बारे में भी जान लें। मौसम विभाग ने पौड़ी, नैनीताल, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, चमोली और देहरादून में भारी बारिश की चेतावनी दी है। मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर सभी विभागों को अलर्ट किया गया है। उत्तराखंड आपदा से जूझ ही रहा है, लेकिन जल्द ही यहां के बिगड़े हालातों का असर दिल्ली और हरियाणा पर भी पड़ने वाला है। इन दोनों राज्यों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। यमुना और इसकी सहायक नदी टौंस का जलस्तर बढ़ रहा है। डाकपत्थर डाम से भी लगातार पानी छोड़ा जा रहा है, पर नदियों का जलस्तर कम नहीं हो रहा।

यह भी पढें - उत्तरकाशी में बादल फटने के बाद तबाही का वीडियो देखिए..17 मौतों से मचा हाहाकार
यमुना और टौंस का जलस्तर इसी तरह बढ़ता रहा तो हरियाणा और दिल्ली में बाढ़ के हालात पैदा हो जाएंगे। रविवार को मोरी और आराकोट में बादल फटने के बाद नदियां उफान पर हैं। दून में भी प्रशासन ने रिस्पना, टौंस और बिंदाल नदी के किनारे बसे लोगों से सुरक्षित जगहों पर जाने की अपील की है। प्रशासन की टीम लोगों को सुरक्षित जगह ले जाने के काम में जुटी है। लोगों को स्कूलों और रैन बसेरों में ठहराया गया है। राहत शिविरों में राशन की व्यवस्था की गई है। दून जिले में नेशनल हाईवे के साथ-साथ 12 से ज्यादा सड़कें बंद हैं। मुसीबत कभी कहकर नहीं आती। इसलिए हम आपको कुछ जरूरी फोन नंबर्स बता रहे हैं। आपदा में फंसे होने पर आप इन नंबर्स पर कॉल कर सकते हैं। आपदा कंट्रोल रूम का नंबर 1077 है। पुलिस को फोन करने के लिए 112 नंबर डायल करें। एंबुलेंस के लिए 108 को सूचित करें। साथ ही 0135-2652571 नंबर डायल कर आप नगर निगम आपदा कंट्रोल रूम से जुड़ सकते हैं। बचाव संबंधी जानकारियां ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं, ताकि वो सुरक्षित रहें।


Uttarakhand News: uttarkashi aarakot cloudburst disaster impact

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें