पहाड़ में मौसम का कहर..सैलाब में बहा मकान, गर्भवती महिला की मौत, 3 लोग घायल

बागेश्वर के ढोलगांव में बारिश की वजह से एक मकान ढह गया, हादसे में गर्भवती महिला की मलबे में दब कर मौत हो गई...

bageshwar rain one women passed away - उत्तराखंड न्यूज, बागेश्वर बारिश, बागेश्वर ढोलगांव, बागेश्वर बारिश महिला की मौत, Uttarakhand news, Bageshwar rain, Bageshwar Dholgaon, Bageshwar rain woman died, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड में बारिश से तबाही का सिलसिला थम नहीं रहा। गढ़वाल से लेकर कुमाऊं तक बारिश से हाहाकार मचा है। बारिश की वजह से हो रहे हादसों में अब तक कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। ऐसे ही दर्दनाक हादसे की खबर इस वक्त बागेश्वर से आ रही है। जहां तेज बारिश की वजह से एक मकान भरभराकर ढह गया। हादसे में एक गर्भवती महिला और उसके अजन्मे शिशु की दर्दनाक मौत हो गई। महिला का पति गंभीर रूप से घायल है, उसे इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा ढोलगांव में हुआ, ये गांव कांडा तहसील के अंतर्गत आता है। बुधवार की शाम परिवार के लोग खाना खाकर सो रहे थे, पर किसे पता था कि सोते वक्त ही मौत दबे पांव आकर प्रेमा को अपना शिकार बना लेगी। परिवार के मुखिया देव सिंह का बेटा नीरज सिंह और 22 साल की बहू प्रेमा देवी गहरी नींद में थे। देव सिंह और उनकी पत्नी कौशल्या देवी दूसरे कमरे में सो रहे थे। कि तभी तड़के साढ़े तीन बजे तेज धमाके की आवाज आई। एक पल के लिए परिवार वाले समझ नहीं पाए कि क्या हुआ, पर जब उनकी आंख खुली तो उन्होंने देखा की मकान की दीवारें गिर गई हैं। बहू प्रेमा और बेटा नीरज मलबे में दबे थे। परिजनों की चीख-पुकार सुन ग्रामीण मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य शुरू कर दिया।

यह भी पढें - उत्तराखंड के 8 जिलों में तबाही ला सकती है बारिश, अगले दो दिन बेहद सावधान रहें
मलबे में दबे नीरज को बाहर निकालने में ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी, पर प्रेमा देवी पूरी तरह मलबे में दबी हुई थी। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत कर प्रेमा देवी को मलबे से बाहर निकाला, पर तब तक काफी देर हो चुकी थी। प्रेमा की सांसें थम गई थीं। प्रेमा तीन महीने की गर्भवती थी, इस हादसे में उसके साथ-साथ अजन्मे शिशु की भी मौत हो गई। प्रेमा की मौत के बाद घर में कोहराम मचा है। परिजन बिलख रहे हैं। घायल नीरज को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी कमर में चोट लगी है। लगातार हो रही बारिश से कुमांऊ के पहाड़ी इलाकों में भारी तबाही हुई है। लोग हादसों में जान गंवा रहे हैं। मुनस्यारी में कुछ दिन पहले दो छात्राएं नदी में डूब गई थीं। इनमें से एक छात्रा की मौत हो गई थी। इसी तरह हल्द्वानी में गौला नदी में नहाते वक्त दो युवक डूब गए थे, दोनों युवक बरेली के रहने वाले थे।


Uttarakhand News: bageshwar rain one women passed away

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें