उत्तराखंड में मौसम विभाग का यलो अलर्ट, कल 5 जिलों में भारी से भारी बारिश की चेतावनी

उत्तराखंड के 5 जिलों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है। कल यानी 30 जुलाई को भारी से भारी बारिश होने की संभावना है।

weather forecast uttarakhand five districts - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड मौसम, उत्तराखंड वेदर अपडेट, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarkhand Weather, Uttarakhand Weather Updates, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

मानसून के रफ्तार पकड़ते ही उत्तराखंड में तबाही के मंजर दिखने लगे हैं। नदियां उफान पर हैं। बारिश लोगों के लिए राहत नहीं, आफत लेकर आई। नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं, जगह-जगह सड़कें बारिश के पानी में बह गईं। कई गांवों का एक-दूसरे से संपर्क टूट गया है, इन्हें फिलहाल राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं। क्योंकि मौसम विभाग ने कल 5 जिलों में भारी से भारी बारिश की चेतावनी दी है। लोगों से नदियों के पास ना जाने को कहा गया है। उच्च पर्वतीय इलाकों में पर्यटकों की आवाजाही रोकने के भी निर्देश दिए गए हैं। कुल मिलाकर अगले 24 घंटे बेहद मुश्किल भरे रहने वाले हैं। आप भी सर्तक रहें। मौसम विभाग ने कहा है कि आने वाले 24 घंटों में प्रदेश के 5 जिलों में भारी से भारी बारिश होगी। ये जिले कौन-कौन से हैं, ये भी जान लें। राजधानी देहरादून, चमोली, टिहरी, पौड़ी और हरिद्वार के लिए यलो अलर्ट जारी हुआ है। यहां प्रशासन को अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। 31 जुलाई तक मौसम के बदले मिजाज से राहत नहीं मिलेगी। पहाड़ी क्षेत्रों में भारी बारिश होगी, भूस्खलन की भी आशंका है। 31 जुलाई तक बारिश का दौर यूं ही जारी रहेगा। हमारी आपसे अपील है कि सतर्क रहें, नदियों-गदेरों के पास ना जाएं, दूसरे लोगों को भी ऐसा करने से रोकें।

यह भी पढें - हे भगवान! उत्तराखंड में एक मां ने लालच में बेचा अपने दो महीने का बच्चा
अब बताते हैं कि बारिश की वजह से प्रदेशभर के हालात किस कदर खराब हैं। रुद्रप्रयाग से लेकर चमोली, पौड़ी से लेकर उत्तरकाशी, नैनीताल से लेकर बागेश्वर हर जगह बाऱिश ही बारिश देखने को मिल रही है। धारचूला में काली नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। नदी का ये रौद्र रूप देख किनारों पर रहने वाले लोग डरे हुए हैं। झूलाघाट के तालेश्वर, बलतड़ी, तड़ीगांव, सीमू और कानड़ी के लोगों से नदी किनारे ना जाने को कहा गया है। टनकपुर-पिथौरागढ़ हाईवे पर कीचड़ और मलबा जमा हो गया था। जिस वजह से चार घंटे तक जाम लगा रहा। धूनाघाट-बरमतौला रोड बुधवार को भी बंद रही। कुमाऊं के कोटाबाग में भी सड़क पर आवाजाही बंद रही। गढ़वाल में भी हालात चिंताजनक हैं। जगह-जगह सड़कें बंद होने की खबर है। इसलिए अगले 24 घंटे जरा सावधान ही रहें।


Uttarakhand News: weather forecast uttarakhand five districts

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें