पहाड़ के 3 जबरदस्त गीत, जिन्हें यू-ट्यूब पर 1-1 करोड़ से ज्यादा लोगों ने देखा..आप भी देखिए

चलिए आज आपको उत्तराखंड के 3 ठेठ पहाड़ी गीत दिखाते हैं, जो यू-ट्यूब पर 1-1 करोड़ से ज्यादा व्यूज पा चुके हैं। देखिए

three populer music video of uttarakhand - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, गढ़वाली गीत, कुमाऊंनी गीत, लेटेस्ट गढ़वाली गीत, लेटेस्ट कुमाऊंनी गीत, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Garhwali Songs, Kumaon Geet, Latest Garhwali, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के लोकगीतों की बात ही अलग है। ये कानों को सुकून देते हैं, साथ ही इनसे लोग अलग तरह का जुड़ाव महसूस करते हैं। हम चाहे पहाड़ में हों या ना हों, पहाड़ी गाने जहां भी सुनने को मिलते हैं, कदम बस उस तरफ खिंचे चले जाते हैं। इतना ही नहीं पहाड़ी गीत यूट्यूब पर भी धूम मचाए हुए हैं। कई गीत तो ऐसे हैं जिन्हें अब तक एक करोड़ से ज्यादा बार देखा-सुना गया। ये तीन गीत हाल ही के हैं और इतने कम वक्त में 1-1 करोड़ व्यूज पार करना इतना आसान नहीं होता है। अच्छी मेहनत, बेहतर संगीत और शानदार संगीत के दम पर ये सफलता हासिल की जाती है। ये गीत कर्णप्रिय तो हैं ही, साथ ही वीडियो भी शानदार हैं। चलिए आपको ऐसे ही शानदार-पॉप्युलर गढ़वाली गीतों के बारे में बताते हैं। साथ ही उनके शानदार वीडियो भी देखिए।

सबसे पहले बात करते हैं लोकगायक किशन महिपाल के गाये गीत ‘फ्योंलड़िया’ की...उत्तराखंड में ऐसा कोई समारोह नहीं होगा, जहां डीजे पर ये ये गीत ना बजता हो। क्या गढ़वाल-क्या कुमाऊं, हर जगह इस गाने की धूम है। ये पहला पहाड़ी गीत है, जिसे यू-ट्यूब पर 2 करोड़ से ज्यादा लोगों ने देखा है।जो इस गीत को सुन चुके हैं, देख चुके हैं..वो इसकी तारीफ कर चुके हैं। आप भी देखिए ‘फ्योंलड़िया’ का शानदार वीडियो।


इसके बाद नंबर आता है गीत ‘चैता की चैत्वाल’ का...वैसे ये गीत है तो पुराना, पर इसके रिमिक्स ने ऐसी धूम मचाई है, कि ये गीत हर विवाह समारोह और डीजे पार्टियों की शान बन गया है। ये एक जागर गीत है। जिसे मूलरूप से सुप्रसिद्ध लोकगायक चंद्र सिंह राही ने गाया था। बाद में इसे गायक अमित सागर ने अपने अंदाज में पेश किया। ये अंदाज युवाओं को खूब भाया और देखते ही देखते ‘चैता की चैत्वाल’ हर पार्टी की शान बन गया। इस गीत का वीडियो देखिए....


लोकगीतों की इस फेहरिस्त में अब गीत ‘थल की बाजार’ भी शामिल हो गया है। पिछले सात महीने में इस गीत को डेढ़ करोड़ से ज्यादा बार देखा गया। जो कि खुद में शानदार रिकॉर्ड है। बीके सामंत का गाया हुआ ये कुमांऊनी गीत केवल कुमाऊं में ही नहीं बल्कि गढ़वाल और जौनसार में भी सुपरहिट है। गीत जितना कर्णप्रिय है, इसका वीडियो भी उतना ही शानदार है। कलाकारों के शानदार अभिनय ने इस गीत को और मधुर और दर्शनीय बना दिया। लोकगीतों संग ऐसे प्रयोग होते रहने चाहिए, ताकि नई प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का मौका मिले, साथ ही दर्शकों को भी कुछ नया देखने को मिले....देखिए ‘थल की बाजार’ का शानदार वीडियो...


Uttarakhand News: three populer music video of uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें