रुद्रप्रयाग में खुदाई के दौरान मिली रहस्यमयी गुफा, वैज्ञानिक करेंगे सर्वे, देखिए वीडियो

क्या महाभारत का सबसे बड़ा राज खुलने वाला है, क्या देवभूमि में मिली इस रहस्यमय गुफा में सचमुच पांडवों के अस्त्र रखे हैं...पढ़ें पूरी खबर, साथ ही गुफा का वीडियो भी देखिए

CAVE IN RUDRAPRAYAG DISTRICT - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, रुद्रप्रयाग गुफा, रुद्रप्रयाग सड़क की खुदाई, रुद्रप्रयाग रहस्यमयी गुफा, Uttarakhand, Uttarakhand News, Rudraprayag cave, excavation of Rudraprayag road, Rudraprayag mysteri, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड देवभूमि के साथ ही चमत्कारों की भूमि है। यहां धरती के गर्भ और हिमशिखरों में ऐसे रहस्य छिपे हैं, जिनके बारे में आम दुनिया को आज भी ज्यादा जानकारी नहीं है। हाल ही में रुद्रप्रयाग के राऊलैंक-जग्गी बगवान के पास सड़क की खुदाई के दौरान एक रहस्यमय गुफा मिली है। इस गुफा में शिवलिंग के दर्शन हो रहे हैं। यही नहीं माना जा रहा है कि इसी गुफा में पांडवों के अस्त्र-शस्त्र भी रखे हुए हैं। इस बात को सच मानने के लिए लोगों के पास कई आधार हैं। माना जाता है कि पांडव भाई और द्रौपदी स्वर्गारोहिणी जाते वक्त उत्तराखंड के अलग-अलग जगहों से होते हुए गुजरे थे। इस दौरान पांडवों ने अपने दिव्य अस्त्र रास्ते में ही छोड़ दिए और स्वर्गारोहिणी की तरफ बढ़ते गए। क्षेत्र में मिली गुफा को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। आगे देखिए वीडियो

गुफा के मिलने की कहानी भी बड़ी रोचक है। इन दिनों लोक निर्माण विभाग राऊलैंक-जग्गी बगवान मोटर मार्ग का निर्माण करा रहा है। सड़क निर्माण का काम चल ही रहा था कि तभी मैखण्डा धार के पास खुदाई के दौरान एक गुफा नजर आई। बाहर से गुफा की चौड़ाई केवल एक फीट है। पर माना जा रहा है कि गुफा में कई रहस्य छिपे हो सकते हैं। जैसे ही लोगों को गुफा मिलने की खबर लगी वो मौके पर इकट्ठे होने लगे। चश्मदीदों ने बताया कि गुफा सचमुच अद्भुत है। इसकी गहराई लगभग दस मीटर हो सकती है। गुफा के अंदर शिवलिंग के दर्शन हो रहे हैं। वहीं लोगों का मानना है कि इस गुफा में पांडवों के अस्त्र-शस्त्र भी हो सकते हैं। ऐसा हो सकता है कि हिमालय यात्रा के वक्त पांडव अपने शस्त्र इसी जगह त्याग कर गए हों। इस गुफा से पचास मीटर आगे एक प्राचीन चट्टान भी मौजूद है, जिस पर भगवान राम, लक्ष्मण, माता सीता और हनुमान के चरणों की छाप है। लोगों की इस जगह में बहुत आस्था है। डीएम मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि प्राचीन गुफा के निकलने का मामला उनके संज्ञान में है। इस दिशा में अभी काफी कुछ किया जाना बाकी है। गुफा के अंदर क्या है, ये जानने के लिए जल्द ही गुफा का सर्वे कराया जाएगा।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: CAVE IN RUDRAPRAYAG DISTRICT

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें