केदारनाथ में हेली टिकट के नाम पर धोखेबाजी, देवभूमि का नाम बदनाम कर रहे हैं ऐसे लोग

केदारनाथ हेली टिकट के नाम पर यात्री को चूना लगाने वाले दो आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए, पुलिस ने दोनों को हरिद्वार से पकड़ा..

fraud in kedarnath helicopter service - उत्तराखंड, केदारनाथ हेलीकॉप्टर सेवा, केदारनाथ हेलीकॉप्टर टिकट, केदारनाथ हेलीकॉप्टर टिकट धोखा , Uttarakhand, Kedarnath helicopter service, Kedarnath helicopter ticket, Kedarnath helicopter ticket fraud, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

केदारनाथ...ये नाम दिल में आते ही एक दिव्य अहसास होता है लेकिन कुछ लोग हैं, जो केदारनाथ जाने वाले श्रद्धालुओं को लूटना ही अपना सबसे पहला काम समझते हैं। खासतौर पर हेलीकॉप्टर टिकट के नाम पर हो रही धांधली तो जगजाहिर है ही। लेकिन इस बीच आपको ये बात भी जाननी होगी कि आखिर कौन लाखों का माल ऐंठ कर अपनी जेब गर्म कर रहा है? कौन हैं वो लोग जो देवभूमि का नाम मिट्टी में मिला रहा हैं। आपको याद होगा कुछ दिन पहले केदारनाथ में हेली टिकटों के नाम पर लोगों को चूना लगाने का मामला सामने आया था। इस मामले में मथुरा के रहने वाले एक शख्स ने रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। अब पुलिस ने धोखाधड़ी के दो आरोपियों को पकड़ लिया है। पुलिस ने दोनों को हरिद्वार से गिरफ्तार किया। गिरफ्तारी के बाद पुलिस दोनों को रुद्रप्रयाग ले आई। पूछताछ में पता चला है कि उत्तराखंड में हेली टिकट के नाम पर लोगों को ठगने वाला एक पूरा गिरोह सक्रिय है। शिकायत करने वाले का कहना है कि 24 हैली टिकटों के 1,22,000 रूपये इनके बैंक अकॉउंट मे ट्रांसफर किये गये। रुद्रप्रयाग पहुंच कर जब कॉल की गयी तो उसके द्वारा कहा गया कि आपके सारे पैसे रिफंड कर दिये जायेंगे तथा अब आपकी टिकटें नहीं हो सकती। परन्तु उक्त व्यक्ति द्वारा न टिकटें करवायी और न ही रुपये वापस किये, और टालमटोल कर अपना फोन बन्द कर दिया। शिकायत के बाद पुलिस ने गंभीरता से इस मामले की छानबीन की। तलाश हरिद्वार में जाकर खत्म हुई। आगे पढ़िए...

यह भी पढें - मुश्किल में देवभूमि को गाली देने वाला विधायक, SSP जन्मेजय खंडूरी ने संभाला मोर्चा
पुलिस ने मंगलवार को हरिद्वार में रह रहे दो आरोपियों को पकड़ा। इनमें एक आरोपी 26 वर्षीय गौरव कुमार है, जो कि बिजनौर के किरतपुर का रहने वाला है। दूसरा आरोपी 45 वर्षीय योगेश कुमार है, वो लक्सर रोड हरिद्वार का निवासी है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि हेली टिकट धोखाधड़ी मामले में कुछ और लोग भी शामिल हैं। अब पुलिस उनके खिलाफ भी कार्रवाई करेगी। बता दें कि बीती 12 जून को मथुरा के वृंदावन में रहने वाले बालकृष्ण दास ने रुद्रप्रयाग कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने कुछ लोगों पर हेली टिकटों के नाम पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया था। आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस पिछले एक महीने से हाथ-पांव मार रही थी। बता दें कि हेली सेवा के नाम पर धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इससे उत्तराखंड की छवि पर गलत असर पड़ रहा है। हेली सेवा को लेकर दूसरे लोगों तक गलत संदेश जा रहा है। आप भी ऐसे धोखेबाजों से बचकर रहें। देखिए रुद्रप्रयाग पुलिस की फेसबुक पोस्ट

#हैली_टिकटों_से_संबंधित_धोखाधड़ी_करने_वाले_02_शातिर_अभियुक्तों_को_किया_गया_गिरफ्तार

दिनांक 12/06/2019 को कोतवाली...

Posted by SP Rudraprayag on Wednesday, July 10, 2019


Uttarakhand News: fraud in kedarnath helicopter service

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें