देहरादून-हरिद्वार-ऋषिकेश में जाम से राहत देगा रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, जानिए इसकी खूबियां

उत्तराखंड में अब मेट्रो या मोनो रेल नहीं पॉड कार्स दौड़ती नजर आएंगी, अब तक आपने इन्हें केवल हॉलीवुड मूवीज में ही देखा होगा...जानिए योजना की खास बातें...

RAPID TRANSIT SYSTEM MAY PLAN FOR DEHRADUN RISHIKESH HARIDWAR - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, देहरादून रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, हरिद्वार रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, ऋषिकेश रैपिड ट्रांजिट सिस्टम,Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Dehradun Rapid Transit, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड में परिवहन सेवाओं के विस्तार की कवायद जारी है, सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही उत्तराखंड में सिंगापुर और लंदन की तरह पॉड कार्स दौड़ती नजर आएंगी। प्रदेश सरकार एक नए ट्रांसपोर्ट सिस्टम को लाने पर विचार कर रही है। ये सिस्टम है पर्सनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, जिसे देहरादून, हरिद्वार और ऋषिकेश में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत भी कह चुके हैं कि दून, हरिद्वार और ऋषिकेश में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को लेकर अब पर्सनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (PRT) पर ही बात आगे बढ़ाई जाएगी। यानि अब उत्तराखंड में मेट्रो, एलआरटी या मोनो रेल नहीं पॉड कार्स दौड़ेंगी। चलिए अब जानते हैं कि PRT यानि पर्सनल रैपिट ट्रांजिट सिस्टम है क्या। पर्सनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (PRT) हाईटेक ट्रैफिक सिस्टम है। जिसमें मारुति 800 के आकार के हाईटेक वाहन 1.2 मीटर के आधार वाले पोल पर टिके 2.1 मीटर के ट्रैक पर दौड़ते दिखाई देते हैं। विदेशों में इसे पॉड कार्स के तौर पर जाना जाता है। टैक्सी की तरह दिखने वाली छोटी गाड़ियां एक खास ट्रैक पर दिशा-निर्देश के नेटवर्क पर चलती हैं। ये ऐसा पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम है जो ऑर्डर मिलने पर पर्सनल सेवा मुहैया कराता है। विदेशों में ये काफी लोकप्रिय है।

यह भी पढें - मंगेश घिल्डियाल के 5 काम, जो उन्हें बनाते हैं देवभूमि का सबसे धाकड़ DM..देखिए 5 वीडियो
PRT सिस्टम का बड़ा फायदा ये है कि इसके लिए ज्यादा जगह की जरूरत नहीं है। पूरी व्यवस्था एक केंद्रीय सिस्टम से संचालित होगी। इससे भीड़भाड़ वाली जगहों में ट्रैफिक कंट्रोल करने में काफी मदद मिलेगी। त्रिवेंद्र सरकार इस दिशा में काम कर रही है, उम्मीद है जल्द ही प्रदेश में पॉड कार्स दौड़ती नजर आएंगी। इसकी मदद से भीड़भाड़ वाली जगहों पर ट्रैफिक कंट्रोल करने में मदद मिलेगी। 12 जुलाई को एक बैठक होनी है, जिसमें उत्तराखंड में पीआरटी सिस्टम को लेकर विस्तार से चर्चा होगी। सोमवार को सचिवालय में हुई बैठक में देहरादून-हरिद्वार-ऋषिकेश मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र की ट्रैफिक व्यवस्था पर चर्चा हुई। बैठक में ट्रैफिक व्यवस्था को व्यापक, सरल और सस्ता बनाने के लिए हरिद्वार-ऋषिकेश में पर्सनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम लाने पर विचार हुआ। बैठक में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ ही शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक भी मौजूद थे। बैठक के बाद सीएम ने मीडियाकर्मियों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि ट्रांसपोर्ट के लिए पीआरटी पर ही आगे विचार किया जाएगा। 12 जुलाई होने वाली बैठक में प्रोजेक्ट पर चर्चा की जाएगी।


Uttarakhand News: RAPID TRANSIT SYSTEM MAY PLAN FOR DEHRADUN RISHIKESH HARIDWAR

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें