देवभूमि में भीषण हादसा.. सैकड़ों मीटर गहरी खाई में गिरी कार, 5 युवकों की मौत

दर्दनाक सड़क हादसे में 5 युवकों की मौत हो गई। सभी युवक फरकिया गांव में हुए क्रिकेट टूर्नामेंट से वापस लौट रहे थे...पढ़िए पूरी खबर

Road accident at malari joshimath five died - उत्तराखंड रोड एक्सीडेंट, चमोली नीति घाटी रोड एक्सीडेंट, मलारी रोड एक्सीडेंट, चमोली नीति घाटी कार एक्सीडेंट, चमोली न्यूज, उत्तराखंड न्यूज, Uttarakhand road accident, Chamoli niti valley road accident,, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

पहाड़ में बदहाल सड़कें और संचार सेवाओं की कमी लोगों की जान पर भारी पड़ रही है। खराब मौसम और खराब सड़कों की वजह से हादसे होते हैं, तो वहीं संचार सेवाएं ठप होने का वजह से दुर्घटना की सूचना समय पर नहीं मिलती। बचाव कार्य में हुई देरी की वजह से घायलों की जान चली जाती है। जोशीमठ में भी ऐसा ही हुआ, यहां क्रिकेट खेलकर लौट रहे युवकों की कार गहरी खाई में जा गिरी, कार में 5 युवक थे जो कि बुरी तरह घायल थे, दर्द से कराह रहे थे। पर हादसे का पता किसी को नहीं चला। इसी बीच घायल युवकों ने कार में पड़े-पड़े दम तोड़ दिया। एक युवक की लाश कार से बाहर निकाल ली गई, जबकि चार लाशें कार में फंसी रहीं। जानकारी के मुताबिक कार सवार पांचों युवक फरकिया गांव से क्रिकेट खेलने के बाद नीती गांव वापस लौट रहे थे, पर घर पहुंच नहीं पाए। उनकी कार भुजगड़ के पास 700 मीटर गहरी खाई में गिर गई। इन दिनों नीती घाटी में संचार सेवाएं ठप हैं, यही वजह है कि हादसे की सूचना समय पर नहीं मिल सकी।

यह भी पढें - पहाड़ के 4 जिलों में 3 जुलाई को भारी बारिश की चेतावनी..बाकी जिले भी अलर्ट पर
हादसा रविवार शाम को हुआ, पर इसका पता सोमवार को लगा। बेटे जब टूर्नामेंट में हिस्सा लेकर वापस घर नहीं लौटे तो सोमवार को परिजन उनकी तलाश में निकल पड़े। जैसे ही वो भुजगड़ के पास पहुंचे उन्हें सड़क पर टायरों के निशान दिखे, जो कि खाई की तरफ जा रहे थे। परिजनों ने खाई में झांका तो वहां कार को गिरा देख उनकी चीख निकल गई। उन्होंने तुरंत पुलिस को हादसे की सूचना दी। सूचना मिलते ही एनडीआरएफ, एसडीआरफ, आईटीबीपी, सेना और पुलिस की टीम ने रेस्क्यू अभियान शुरू कर दिया, पर तब तक देर हो चुकी थी। हादसे में खुशहाल रावत, वीरेंद्र, खुशाल रावत, देवेंद्र खाती और राकेश सिंह नाम के युवक की मौत हो गई है। मृतकों की उम्र 23 से 28 साल के बीच है। जवान बेटों की मौत से नीती गांव में मातम पसरा है, परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। सोमवार शाम रेस्क्यू अभियान में 100 जवान जुटे रहे, पर अंधेरा होने की वजह से अभियान रोकना पड़ा। एक युवक की लाश कार से निकाल ली गई है। 4 युवकों की लाश अब भी कार में फंसी हैं। मंगलवार को दोबारा रेस्क्यू अभियान चलाया जाएगा।


Uttarakhand News: Road accident at malari joshimath five died

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें