देवभूमि में बर्बरता...शादी के दौरान कुर्सी में बैठा था दलित, सवर्णों ने पीट-पीटकर मार डाला

शादी समारोह में खाना खा रहे दलित युवक को सवर्णों ने पीट-पीट कर मार डाला, ये शर्मनाक घटना श्रीकोट में हुई।

UTTARAKHAND DALIT BEATEN BY UPPER CAST - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, श्रीनगर न्यूज, टिहरी गढ़वाल न्यूज, टिहरी शादी, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Srinagar News, Tehri Garhwal News, Tehri Mar, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

कहने को इंसान चांद पर पहुंच गया है, हर दिन नए कीर्तिमान गढ़ रहा है, लेकिन ऐसी तरक्की का क्या फायदा जो हमें आज भी इंसान को इंसान नहीं समझने देती...जाति-छुआछूत के नाम पर हमें बांट देती है। दुख की बात ये है कि जाति और ऊंच-नीच की नफरत अब पहाड़ में भी पनपने लगी है। टिहरी में शादी समारोह में दलित वर्ग का एक युवक ऊंची जाति वालों के सामने बैठ कर खाना खा रहा था, ये बात तथाकथित ऊंची जात वाले लोगों को इस कदर नागवार गुजरी कि उन्होंने पीट-पीटकर युवक की जान ही ले ली। आरोपियों ने युवक को बुरी तरह पीटा था, रविवार को घायल युवक ने देहरादून के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली ये घटना 26 अप्रैल को हुई। टिहरी में नैनबाग तहसील के अंतर्गत आने वाले गांव श्रीकोट में शादी समारोह में लोग खाना खा रहे थे। तभी उन्होंने देखा कि 23 साल का जितेंद्र कुर्सी लेकर आया और ऊंची जात वालों के सामने बैठकर खाना खाने लगा। ये बाद ऊंची जात वालों को जमी नहीं और उन्होंने युवक को सबक सिखाने की ठान ली। ये लोग जितेंद्र को शादी समारोह से दूर ले गए और उसे बुरी तरह पीटा।

यह भी पढें - इतिहास रचेगी उत्तराखंड की बेटी…आप बनाइए देवभूमि की बेटी को देश की शान…
गंभीर रूप से घायल जितेंद्र किसी तरह अपने घर पहुंचा, लेकिन उसने किसी से कुछ नहीं कहा और कमरे में जाकर सो गया। सुबह जितेंद्र की हालत बिगड़ गई, वो बेहोश हो गया। पहले उसका नैनबाग के अस्पताल में इलाज हुआ, जहां से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। 27 अप्रैल से जितेंद्र देहरादून के महंत इंद्रेश अस्पताल में भर्ती था, जहां रविवार को उसकी मौत हो गई। युवक की मौत के बाद परिवार में मातम पसरा है, जितेंद्र के पिता की काफी वक्त पहले ही मौत हो चुकी है, अब वो भी नहीं रहा। जितेंद्र की बहन पूजा ने बताया कि हमारे रिश्ते दार की शादी थी, मेरे भाई ने ये गलती कर दी कि उसने उसी काउंटर से खाना लिया जहां ऊंची जाति वाले खा रहे थे। फिर वो उन्हींे के पास पड़ी कुर्सी पर बैठ गया। इससे उन्हेंं (अगड़ी जाति के लोग) गुस्साी आ गया, वो बोले ये नीच जाति का हमारे साथ नहीं खा सकता, खाएगा तो मरेगा। ये कहकर आरोपियों ने जितेंद्र को बुरी तरह पीटा। जितेंद्र परिवार का अकेला कमाने वाला सदस्य था, उसकी मौत के बाद परिवार को संभालने वाला कोई नहीं रहा। जितेंद्र दास की बहन पूजा पुत्री स्व0 सेवक दास ने 7 लोगों गजेंद्र पुत्र प्रेम सिंह, सोबन पुत्र धूम सिंह, कुशल, गब्बर, गंभीर, हरबीर सिंह, हुकम सिंह के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तार की मांग की, पुलिस भी आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।


Uttarakhand News: UTTARAKHAND DALIT BEATEN BY UPPER CAST

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें