देवभूमि में महापाप! हैवानों ने मजदूर महिला को भी नहीं छोड़ा..घर से उठाकर गैंगरेप किया

दुष्कर्म पीड़ित महिला बेहोशी की हालत में पूरी रात खुले आसमान तले पड़ी रही, पर किसी ने उसकी सुध नहीं ली।

WOMEN MOLESTATION IN PITHORAGARH - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, पिथौरागढ़, पिथौरागढ़ न्यूज, पिथौरागढ़ यौन शोषण, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Pithoragarh, Pithoragarh News, Pithoragarh, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

क्या उत्तराखंड महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से असुरक्षित हो रहा है ? उत्तराखंड में महिलाओं से दरिंदगी के ऐसे मामले सामने आ रहे हैं कि सोचकर ही रूह कांप जाती है...अब ऐसे हैवानियत भरे केस सामने आने लगे हैं, जिनके बारे में सोचकर ही डर सताने लगता है। हालिया मामला पिथौरागढ़ का है, जहां हैवानों ने मजदूरी करने वाली महिला तक को नहीं बख्शा...दो युवकों ने महिला को अगवा कर लिया और उसे दूर ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया...महिला ने विरोध किया तो आरोपियों ने महिला को बुरी तरह पीटा। हमले में महिला बुरी तरतह घायल हो गई। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। घटना बंगापानी तहसील के बरम कस्बे की है, जहां 35 साल की महिला को दो युवकों ने उसके कमरे से अगवा कर लिया। आरोपी उसे घर से 100 मीटर दूर ले गए, जहां दोनों ने उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़ित गिड़गिड़ाती रही और युवकों से उसे छोड़ देने की गुहार लगाती रही, लेकिन आरोपियों पर इसका कोई असर नहीं पड़ा। आगे की कहानी जानेंगे तो आपकी भी रूह कांप उठेगी।

यह भी पढें - काश! कर्णप्रयाग में ऐसा पहले हुआ होता, तो उस बेटी की अस्मत नहीं लुटती
पीड़ित महिला ने हैवान युवकों का विरोध किया तो गुस्से में आकर उन्होंने महिला को बुरी तरह पीटा। कितनी शर्म की बात है कि पीड़ित महिला पूरी रात बेहोशी की हालत में खुले आसमान के नीचे पड़ी रही। जब होश आया तो उसने किसी तरह खुद को संभाला और आरोपियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी। महिला मजदूरी कर किसी तरह गुजर-बसर करती है...पीड़ित ने बताया कि गरीबी की वजह से वो पहले ही लाचार है, उस पर युवकों की गंदी नीयत ने उसकी जिंदगी बर्बाद कर दी। वो कस्बे में किराए के कमरे में रहती थी, किसी तरह मेहनत कर दो पैसे जोड़ रही थी, लेकिन अब सबकुछ खत्म हो गया। जरा सोचिए उस महिला पर क्या बीत रही होगी? फिलहाल पुलिस ने पीड़ित का मेडिकल कराने के बाद दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया है। फिलहाल पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। सवाल ये ही है कि क्या वास्तव में उत्तराखंड भी महिलाओं के लिए असुरक्षित हो गया है।


Uttarakhand News: WOMEN MOLESTATION IN PITHORAGARH

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें